स्थानविशेष करेंट अफेयर्स

लद्दाख में बनेगी भारत की पहली नाइट स्काई सैंक्चुअरी (Night Sky Sanctuary)

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग ने एक अनूठी और अपनी तरह की पहली पहल में लद्दाख में भारत का पहला नाइट स्काई अभयारण्य (Night Sky Sanctuary) स्थापित करने का निर्णय लिया है। मुख्य बिंदु  यह प्रस्तावित डार्क स्काई रिजर्व लद्दाख के हानले में चांगथांग वन्यजीव अभयारण्य के हिस्से के रूप में स्थित होगा। यह भारत में

Month:

हरिद्वार बना सर्वश्रेष्ठ आकांक्षी जिला (Best Aspirational District)

नीति आयोग ने उत्तराखंड के हरिद्वार शहर को पांच मानकों के आधार पर सर्वश्रेष्ठ आकांक्षी जिला (Best Aspirational District) घोषित किया है। बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर थीम में हरिद्वार ने पहला स्थान हासिल किया है। अब इस शहर के लिए 3 करोड़ रुपये का अतिरिक्त आवंटन किया जाएगा। आकांक्षी जिला कार्यक्रम (Aspirational District Programme) यह कार्यक्रम जनवरी 2018

Month:

प्रधानमंत्री ने अहमदाबाद में अटल ब्रिज (Atal Bridge) का उद्घाटन किया

हाल ही में, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के अहमदाबाद शहर में साबरमती नदी पर प्रतिष्ठित ‘अटल ब्रिज’ का उद्घाटन किया। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर 25 दिसंबर को इसका नाम अटल ब्रिज घोषित किया गया था। अटल ब्रिज (Atal Bridge) यह पुल साबरमती नदी पर साबरमती रिवरफ्रंट के किनारे बना है

Month:

मंडला (Mandla) बना भारत का पहला ‘कार्यात्मक रूप से साक्षर’ (functionally literate) जिला

मध्य प्रदेश का आदिवासी बहुल मंडला (Mandla) जिला भारत का पहला “कार्यात्मक रूप से साक्षर” (functionally literate) जिला बन गया है। 2011 के सर्वेक्षण के दौरान, मंडला जिले में साक्षरता दर 68% थी। 2020 की एक अन्य रिपोर्ट में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि, इस जिले में 2.25 लाख से अधिक लोग साक्षर

Month:

यूनेस्को की सूची में बिहार की खगोलीय वेधशाला को शामिल किया गया

बिहार के मुजफ्फरपुर के लंगत सिंह कॉलेज में 106 साल पुरानी खगोलीय वेधशाला को यूनेस्को की विश्व धरोहर वेधशालाओं की सूची में जोड़ा गया है। यह वेधशाला भारत के पूर्वी भाग में अपनी तरह की पहली वेधशाला है। मुख्य बिंदु  मुजफ्फरपुर में यह खगोलीय वेधशाला 1916 में स्थापित की गई थी, जो छात्रों को विस्तृत

Month:

काराकोरम विसंगति (Karakoram Anomaly) क्या है?

हाल ही में, शोधकर्ताओं ने खुलासा किया कि काराकोरम रेंज के ग्लेशियरों के कुछ क्षेत्र जलवायु परिवर्तन के कारण हिमनदों के पिघलने की विश्वव्यापी प्रवृत्ति के खिलाफ क्यों जा रहे हैं। मुख्य बिंदु  हिमालय में हिमनदों का द्रव्यमान घट रहा है। शोधकर्ताओं ने इस घटना को “पश्चिमी विक्षोभ (WDs) के पुनरुत्थान” से जोड़ा है। काराकोरम

Month:

Advertisement