खेलकूद करेंट अफेयर्स

जापान की 13 वर्षीय स्केटर निशिया (Nishiya) सबसे कम उम्र की स्वर्ण पदक विजेता बनीं

13 वर्षीय जापानी स्केटबोर्डर मोमीजी निशिया (Momiji Nishiya) ने टोक्यो 2020 ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता। वह ओलंपिक खेलों में जापान की और से अब तक की सबसे कम उम्र की स्वर्ण पदक विजेता बन गयी हैं। मुख्य बिंदु निशिया ने 26 जुलाई को महिलाओं की स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता। जापान के युटो होरीगोम

Month:

टोक्यो ओलंपिक में शामिल किये गये चार नए खेल : मुख्य बिंदु

टोक्यो ओलंपिक में चार नए खेलों को शामिल किया गया है। वे खेल हैं : कराटे, स्केटबोर्डिंग, सर्फिंग और सपोर्ट क्लाइम्बिंग हैं। कराटे मार्शल आर्ट 1970 के दशक से, ओलंपिक समावेश के लिए एक उम्मीदवार रहा है, लेकिन आयोजक इस खेल को स्वीकार करने के लिए कभी भी सहमत नहीं हुए। तीन दिवसीय प्रतियोगिता निप्पॉन बुडोकन

Month:

सुमित नागल (Sumit Nagal) बने ओलंपिक में टेनिस सिंगल्स मैच जीतने वाले तीसरे भारतीय

सुमित नागल (Sumit Nagal) ओलंपिक खेलों में एकल पुरुष मैच जीतने वाले तीसरे भारतीय टेनिस खिलाड़ी बने। वह 25 साल में भारत के लिए जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने। उन्होंने इस मैच में डेनिस इस्तोमिन (Denis Istomin) को हराया। मुख्य बिंदु नागल ने इस्तोमिन को 6-4, 6-7(6), 6-4 से हराया।इस मैच में दो घंटे 34

Month:

ओलिंपिक : मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) ने रचा इतिहास; टोक्यो ओलंपिक में भारोत्तोलन में 49 किग्रा वर्ग में रजत पदक जीता

मीराबाई चानू ने ओलंपिक के इतिहास में भारोत्तोलन (weightlifting) में भारत का पहला रजत पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। चानू ने 49 किग्रा वर्ग में रजत पदक जीता। मुख्य बिंदु 26 वर्षीय मीराबाई चानू ने स्नैच में 87 किग्रा और क्लीन एंड जर्क स्पर्धा में 115 किग्रा भार उठाकर 49 किग्रा वर्ग के फाइनल

Month:

ओलंपिक विरोध नियम – मुख्य बिंदु

दुनिया भर के खिलाड़ियों के घुटने टेकने के साथ ओलंपिक शासन ने खेलों में इस तरह के प्रदर्शनों पर प्रतिबंध लगा दिया था। मुख्य बिंदु ओलंपिक ने हमेशा खुद को एक गैर-राजनीतिक इकाई के रूप में चित्रित किया है जो खेल और एकता के आधार पर देशों को एक साथ लाता है।इसलिए खेलों में प्रचार

Month:

कैडेट वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारतीय पहलवानों ने जीत दर्ज की

22 जुलाई, 2021 को भारतीय पहलवानों प्रिया और तन्नु ने कैडेट विश्व चैम्पियनशिप में पदक जीते। मुख्य बिंदु तन्नू ने 43 किग्रा के खिताब के रास्ते में एक भी अंक नहीं गंवाया। प्रिया ने 73 किग्रा वर्ग में बेलारूस की सेनिया पटापोविच को 5-0 से हराकर खिताब जीता। सागर जगलान (80 किग्रा) और अमन गुलिया

Month:

2 / 13<1234>>>

Advertisement