राज्यों के करेंट अफेयर्स

ऑटोलिव कंपनी तमिलनाडु में 100 करोड़ रुपये की लागत से मैन्युफैक्चरिंग प्लांट की स्थापना करेगी  

ऑटोलिव भारत में अपना विनिर्माण संयंत्र स्थापित करने जा रही है। ऑटोलिव तमिलनाडु में 100 करोड़ रुपये की लागत से विनिर्माण प्लांट की स्थापना करेगी। इससे राज्य में रोज़गार का सृजन होगा।

मुख्य बिंदु

ऑटोलिव ने तमिलनाडु के तिरुवन्नामलाई जिले के च्यार में अपने विनिर्माण संयंत्र के लिए जमीन खरीदी है। यह विनिर्माण संयंत्र एयर-बैग का निर्माण करेगा। ऑटोलिव का यह विनिर्माण प्रोजेक्ट 400 से अधिक लोगों के लिए रोजगार पैदा करेगा।

ऑटोलिव कंपनी सीट बेल्ट, एयर-बैग और स्टीयरिंग व्हील जैसी वाहनों के उपकरण बनाती है। ऑटोलिव द्वारा बनाये गये एयर-बैग और सीटबेल्ट का उपयोग दुनिया भर की गाड़ियों में किया जाता है। गौरतलब है कि शुरुआत में, ऑटोलिव वियतनाम में अपना विनिर्माण संयंत्र स्थापित करने की योजना बना रहा था, लेकिन बाद में इसने तमिलनाडु को चुना।

अन्य समझौते

2020 में, तमिलनाडु सरकार ने मोटर वाहन उद्योग में $ 2 बिलियन से अधिक के निवेश के लिए कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए थे। पिछले वर्ष डायमलर इंडिया कमर्शियल व्हीकल्स ने भी तमिलनाडु में 2,277 करोड़ रुपये का निवेश के लिए प्रतिबद्धता ज़ाहिर की थी। नीदरलैंड बेस्डDinex ने महिंद्रा वर्ल्ड सिटी में 100 करोड़ रुपये के निवेश के साथ एक ऑटो-कंपोनेंट्स मैन्युफैक्चरिंग प्रोजेक्ट का प्रस्ताव रखा है।

ऑटोलिव

ऑटोलिव एक स्वीडिश-अमेरिकन कंपनी है, यह दुनिया की अग्रणी कार कंपनियों को एयरबैग, सीट बेल्ट और स्टीयरिंग व्हील जैसे उपकरणों की आपूर्ति करती है। इसका मुख्यालय स्वीडन के स्टॉकहोल्म में स्थित है।

 

Month:

 9 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि की गयी

11 जनवरी को दिल्ली और महाराष्ट्र ने बर्ड फ्लू या एवियन इन्फ्लूएंजा के प्रकोप की पुष्टि कर दी है। इसके बाद, अब देश में 9 राज्य बर्ड फ्लू से प्रभावित हो चुके हैं।

मुख्य बिंदु

दिल्ली और महाराष्ट्र से पहले मध्य प्रदेश, केरल, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। रिपोर्ट के अनुसार, 8 नमूने दिल्ली से जांच के लिए भेजे गए थे और उनमें से सभी 8 को एवियन इन्फ्लूएंजा से संक्रमित पाया गया है।

महाराष्ट्र के परभनी जिले के मुरुम्बा गांव में 800 मुर्गियां मृत पायी गयी थीं। इसके बाद, मृत मुर्गियों के नमूनों को जांच के लिए राष्ट्रीय प्रयोगशाला में भेजा गया। जिसके बाद महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू की पुष्टि की गयी।

एवियन इन्फ्लुएंजा या बर्ड फ्लू क्या है?

यह एक संक्रामक वायरल बीमारी है जो इन्फ्लुएंजा टाइप ए वायरस के कारण होती है। यह आमतौर पर टर्की और मुर्गियों जैसे पोल्ट्री पक्षियों को प्रभावित करती है। इन्फ्लुएंजा टाइप ए वायरस कई प्रकार के होते हैं। कुछ वायरस कम अंडे के उत्पादन का कारण बन सकते हैं।

बर्ड फ्लू ने मनुष्यों को संक्रमित करना कब शुरू किया?

मनुष्य पहली बार 1997 में बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए गये थे। H5N1 स्ट्रेन मनुष्यों को संक्रमित करने वाला पहला इन्फ्लुएंजा वायरस था।  विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, H5N1 एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता है। इसके अलावा, डब्ल्यूएचओ के अनुसार, ऐसे कोई सबूत नहीं हैं कि वायरस ठीक से पकाये गए मुर्गे के माध्यम से फैल सकता है। वायरस गर्मी के प्रति अत्यधिक संवेदनशील है और खाना पकाने के तापमान में मर जाता है।

Month:

26वां कोलकाता अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (KIFF) शुरू हुआ

हाल ही में 26वें कोलकाता अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (KIFF) का उद्घाटन पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा किया गया। इस महोत्सव में विभिन्न फिल्मकारों की फिल्में और लघु फिल्में प्रदर्शित की जायेंगी।

मुख्य बिंदु

26वें कोलकाता अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (KIFF) के उद्घाटन समारोह में बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने भाग लिया। शाहरुख खान ने मुंबई से पश्चिम बंगाल के ब्रांड एंबेसडर के रूप में इस कार्यक्रम में भाग लिया। इस 7-दिवसीय समारोह में फिल्म निर्माता सत्यजीत रे और बंगाली अभिनेता सौमित्र चटर्जी सम्मानित किया जायेगा। दिग्गज फिल्मकार सत्यजीत रे की फिल्म ‘अपुर संसार’ महोत्सव की उद्घाटन फिल्म होगी। सौमित्र चटर्जी की कुछ अन्य फिल्में हैं- व्हील चेयर, देखा, आकाश कुसुम, गणदेवता, मयूराक्षी, पोडोकखेप, कोनी और बोहोमान।

इस महोत्सव में 45 देशों की 131 फिल्में दिखाई जाएंगी। 131 फिल्मों में 50 लघु फिल्में और 81 फीचर फिल्में शामिल हैं। ये फिल्में 13 जनवरी 2021 तक प्रदर्शित की जाएंगी। COVID-19 महामारी के कारण यह  उत्सव छोटे स्तर पर आयोजित किया जा रहा है।

सितारवादक रवि शंकर पर फिल्में, इतालवी फिल्म निर्माता फेडेरिको फेलिनी की 6 फिल्में, और गायक हेमंत मुखर्जी पर और हास्य अभिनेता भानु बंद्योपाध्याय की फिल्में ही इस महोत्सव में दिखाई जाएंगी।

कोलकाता अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव

यह कोलकाता में आयोजित किया जाने वाला एक वार्षिक फिल्म कार्यक्रम है। इसकी शुरुआत 1955 में हुई थी। गौरतलब है कि यह भारत का तीसरा सबसे पुराना अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव है। इस महोत्सव में विभिन्न फिल्मकारों की फिल्में, लघु फिल्में शामिल हैं।

 

Month:

तेलंगाना बना ‘शहरी स्थानीय निकाय’ सुधारों को लागू करने वाला तीसरा राज्य

तेलंगाना ‘शहरी स्थानीय निकाय’ सुधारों को लागू करने वाला तीसरा राज्य बन गया है। इसके साथ, अब तेलंगाना खुले बाज़ार उधार के माध्यम से 2,508 करोड़ रुपये के अतिरिक्त वित्तीय संसाधन जुटा सकता है।

मुख्य बिंदु

तेलंगाना ने केंद्र द्वारा निर्धारित शहरी स्थानीय निकाय (Urban Local Bodies-ULB) सुधार को सफलतापूर्वक लागू किया है, इसके बाद केंद्रीय वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग ने तेलंगाना को खुले बाज़ार उधार के माध्यम से 2,508 करोड़ रुपये के अतिरिक्त वित्तीय संसाधन जुटाने की अनुमति दी है।

इन सुधारों में शामिल है : शहरी स्थानीय निकाय में मौजूदा सर्कल दरों के अनुसार संपत्ति कर की अधिसूचित दर, जल निकासी, पानी की आपूर्ति, और सीवरेज के प्रावधान के संबंध में उपयोगकर्ता शुल्क दर की सूचना इत्यादि।

तेलंगाना मध्य प्रदेश और आंध्र प्रदेश के बाद शहरी स्थानीय निकाय सुधारों को लागू करने वाला तीसरा राज्य बन गया है। इसके साथ ही, तेलंगाना 7,406 करोड़ रुपये की अतिरिक्त उधारी के पात्र बन गया है।

मई 2020 में, केंद्र सरकार ने राज्यों की उधार सीमा सकल राज्य घरेलू उत्पाद के 2% तक बढ़ा दी है। इस विशेष वितरण का आधा हिस्सा 4 प्रमुख क्षेत्रों में राज्यों द्वारा किए गए सुधारों से जुड़ा था। यह चार क्षेत्र हैं : व्यापार करने में आसानी (Ease of Doing Business), एक राष्ट्र एक राशन कार्ड (One Nation One Ration Card) का कार्यान्वयन, बिजली क्षेत्र में सुधार और शहरी स्थानीय निकाय सुधार। गौरतलब है कि तेलंगाना ऐसा पहला राज्य था जिसने ‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड’ प्रणाली लागू की।

Month:

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड के बढ़ते मामलों के लिए 4 राज्यों को चेतावनी जारी की

हालिया दिनों में छत्तीसगढ़, केरल, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि दर्ज की गयी है। इसे मद्देनजर रखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने इन चार राज्यों को COVID-19 मामलों की संख्या को कम करने के लिए कदम उठाने के लिए निर्देश दिया है।

मुख्य बिंदु

केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक छत्तीसगढ़, केरल, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में हाल ही में नए कोरोनोवायरस मामलों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गयी है। हालात की गंभीरता को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन राज्यों को सख्त निगरानी बनाए रखने और बढ़ते कोरोनावायरस मामलों की जांच करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने के लिया कहा है। गौरतलब है कि इन चार राज्यों में देश के कुल कोरोनावायरस मामलों का 59% हिस्सा है।

मौजूदा समय में भारत में कोविड-19 के कुल मामले 1,03,95,278 हैं। इसमें से केवल 2,28,083 सक्रिय मामले हैं। अब तक, कोविड-19 के कारण कुल 1,50,336 लोगों की मौत ही चुकी है। जबकि 1,00,16,859 लोग कोविड-19 से रिकवर हो चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन चार राज्यों को कोविड-19 से लड़ने के लिए ‘Test-Track-Treat’ रणनीति का पालन करने के लिए कहा है।

गौरतलब है कि भारत सरकार 13 जनवरी या 14 जनवरी से देश भर में टीकाकरण शुरू करने जा रही है।

कोविड-19 वैक्सीन

ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया ने आपातकालीन उपयोग के लिए दो COVID-19 टीकों कोविशिल्ड और कोवाक्सिन को मंजूरी दे दी है।

Month:

हिमा कोहली बनीं तेलंगाना उच्च न्यायालय की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश

न्यायमूर्ति हेमा कोहली ने 8 जनवरी को तेलंगाना उच्च न्यायालय की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली है। उन्हें राज्य की राज्यपाल  तमिलिसाई सुन्दरराजन ने शपथ दिलाई।

मुख्य बिंदु

इससे पहले हिमा कोहली दिल्ली उच्च न्यायालय में कार्यरत्त थीं। उन्होंने वर्ष 1984 में कानून का अभ्यास शुरू किया और वर्ष 1999 से 2004 तक दिल्ली उच्च न्यायालय में नई दिल्ली नगरपालिका परिषद की स्थायी सलाहकार और कानूनी सलाहकार रहीं। 2006 में, हिमा कोहली को दिल्ली उच्च न्यायालय में अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था, और वर्ष 2007 में उन्हें दिल्ली उच्च न्यायालय में न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था। वह नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में गवर्निंग काउंसिल की सदस्य के रूप में भी कार्यरत हैं।

तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में उनकी नियुक्ति की सर्वोच्च न्यायालय कोलेजियम ने 14 दिसंबर 2020 को सिफारिश की थी। हिमा कोहली ने न्यायमूर्ति राघवेंद्र सिंह चौहान का स्थान लिया है जिन्हें अब मुख्य न्यायाधीश के रूप में झारखंड उच्च न्यायालय में स्थानांतरित किया गया है। न्यायमूर्ति अरुप कुमार गोस्वामी ने भी आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली है।

तेलंगाना उच्च न्यायालय

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के पुनर्गठन के बाद तेलंगाना उच्च न्यायालय का गठन किया गया था। दिसंबर 2018 में, हैदराबाद उच्च न्यायालय के आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय और तेलंगाना उच्च न्यायालय में विभाजन के लिए एक नोटिस जारी किया गया था। 1 जनवरी, 2019 को यह अलग-अलग उच्च न्यायालय अस्तित्व में आये।

Month:

1 / 15123>>>

Advertisement