पाकिस्तान में कराची की जगह इस्लामाबाद को राजधानी बनाने की घोषणा कब की गई थी?

पाकिस्तान में कराची की जगह इस्लामाबाद को राजधानी बनाने की घोषणा 1 अगस्त 1960 में की गई थी| जब विभाजन के बाद पाकिस्तान बना, तो कराची को राजधानी बनाने के कई कारण थे, बड़ा होने के अलावा शहर से लगा बंदरगाह भी था, जो व्यापार के लिए अहम था। देश की राजधानी होने के नाते कला और सांस्कृतिक रूप से भी कराची संपन्न शहर था। हालांकि इसके बावजूद राजधानी के लिए ऐसा शहर चाहिए था, जहां कार्यालयों के लिए पर्याप्त इमारतें और नई इमारतों के लिए जगह भी हो। 1959 में राष्ट्रपति मुहम्मद अयूब खान के नेतृत्व में रावलपिंडी के पास के इलाके को राजधानी के लिए चुना गया, जिसका नाम इस्लामाबाद रखा गया था। इस्लामाबाद को राजधानी बनाने का एक कारण यह भी था कि यह पाकिस्तान की सेना के मुख्यालय, रावलपिंडी और विवादित इलाके कश्मीर से बेहद करीब था।

आप इन अपडेट्स को करेंट अफेयर्स टूड़े मोबाइल एप्प में भी पढ़ सकते हैं।

« »
अन्य रोचक प्रश्न

Advertisement

Comments