आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम

भारत सरकार लांच करेगी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम (National Programme on Artificial Intelligence)

भारत सरकार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम (National Programme on Artificial Intelligence) शुरू करने जा रही है। इस कार्यक्रम के तहत, सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों में उच्च मूल्य डेटा सेट की पहचान की जाएगी। फिर इन आंकड़ों को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कंट्रोल फ्रेमवर्क के तहत रखा जाएगा। यह फ्रेमवर्क उपयुक्त इकाइयों तक पहुंच प्रदान करेगा। यह डेटा की सुरक्षा और इसकी पहुंच बढ़ाने के लिए किया जा रहा है।

मुख्य बिंदु

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम के तहत, विभिन्न मॉडलों में डेटा का उपयोग करने के लिए परिवर्तनकारी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का एक केंद्र (Centre for Transformational Artificial Intelligence) आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मॉडल के लिए उपलब्ध कराया जायेगा।

भारत सरकार ने डिजिटल इंडिया 2.0 (Digital India 2.0) लॉन्च करने की योजना बनाई है। इससे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम को बढ़ावा मिलेगा।

डिजिटल इंडिया 2.0 (Digital India 2.0)

  • डिजिटल इंडिया 0 का मुख्य उद्देश्य साइबर सुरक्षा, डिजिटल सेवा और बुनियादी ढांचे को अगले स्तर तक ले जाना है।
  • डिजिटल इंडिया 0 के तहत, भारत सरकार स्वदेशी साइबर सुरक्षा उत्पादों और मजबूत डिजिटल बुनियादी ढांचे का विकास करेगी।
  • इसका उद्देश्य डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर को और मज़बूत करना है।
  • डिजिटल इंडिया 0 के तहत एक राष्ट्रव्यापी एंटरप्राइज आर्किटेक्चर (Nationwide Enterprise Architecture) स्थापित किया जायेगा।

योजनाओं में MSMEs की भूमिका

  • डिजिटल इंडिया 0 और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम दोनों को इस तरह से लागू किया जाएगा कि वे संबंधित क्षेत्रों में MSMEs और स्टार्टअप का समर्थन करें।
  • इसे हासिल करने के लिए MSME मंत्रालय 1,000 करोड़ रुपये का कोष स्थापित करेगा।यह फंड इन कंपनियों को पूँजी तक पहुँच प्रदान करेगा।
  • इस क्षेत्र में स्टार्टअप की मदद के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग डिजिटल उत्पाद कोष (Digital Product Fund) स्थापित करेगा।इस फंड को इनक्यूबेटर और एक्सेलेरेटर के माध्यम से स्टार्टअप में निवेश किया जाएगा।

Month:

Advertisement