एस्ट्राजेनेका

WHO ने वैश्विक उपयोग के लिए चीनी वैक्सीन सिनोवैक (Sinovac) को मंजूरी दी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चीन के सिनोवैक बायोटेक लिमिटेड की कोविड -19 वैक्सीन के वैश्विक उपयोग के लिए मंजूरी दे दी है। मुख्य बिंदु WHO ने 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए इसके इस्तेमाल की सिफारिश की थी। इसके लिए दो-खुराक निर्धारित की जाएगी, जिसमें शॉट्स के बीच दो से चार सप्ताह

Month:

क्या कोरोना के लिए दो अलग-अलग टीके लगाये जा सकते हैं?

टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (National Technical Advisory Group on Immunization – NTAGI) के तहत कोविड-19 कार्यकारी समूह के अध्यक्ष डॉ. एन.के. अरोड़ा (Dr. N.K. Arora) के अनुसार, भारत जल्द ही कोविड टीकों की दो अलग-अलग खुराक के मिश्रण की व्यवहार्यता (feasibility) के लिए परीक्षण शुरू कर सकता है कि यह वायरस के खिलाफ

Month:

भारत और अमेरिका ने वैक्सीन साझेदारी पर चर्चा की

विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S. Jaishankar) और अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) ने 28 मई, 2021 को वाशिंगटन में एक बैठक की। मुख्य बिंदु इस दौरान दोनों ने द्विपक्षीय सहयोग और क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों के विभिन्न पहलुओं पर एक उपयोगी चर्चा की। उन्होंने इंडो पैसिफिक और क्वाड, म्यांमार मामले, अफगानिस्तान मामले और UNSC

Month:

 भारत में कोविड-19 टीकाकरण का आंकड़ा 18 करोड़ के पार पहुँचा

भारत में अब तक 18   करोड़ से अधिक लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है। गौरतलब है कि पिछले 24 घंटों में देश में 20 लाख से अधिक लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया है। कोविड-19 टीकाकरण का पहला चरण कोविड-19 टीकाकरण अभियान का पहला चरण 16 जनवरी, 2021 को शुरू

Month:

ऑक्सफ़ोर्ड-एस्ट्राज़ेनेका की वैक्सीन कोविशील्ड की आपातकालीन उपयोग के लिए अनुशंसा की गयी

Central Drugs Standard Control Organization (CDSCO) की विशेषज्ञ समिति ने हाल ही में ऑक्सफ़ोर्ड-एस्ट्राज़ेनेका की वैक्सीन कोविशील्ड की अनुशंसा आपातकालीन उपयोग के लिए की है। यह ऐसा पहला वैक्सीन है जिसे भारत में मंज़ूरी दी गयी है। इस वैक्सीन का निर्माण भारत में ही सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया द्वारा किया जा रहा है। गौरतलब है

Month:

यूनाइटेड किंगडम ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को मंज़ूरी दी

हाल ही में यूनाइटेड किंगडम ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राज़ेनेका वैक्सीन को उपयोग के लिए मंजूरी दे दी है। इस वैक्सीन का निर्माण भारतीय कंपनी सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया ने किया है। बढ़ते कोरोनोवायरस मामले के बीच इस वैक्सीन की डोज़ लोगों को दी जाएगी। फिलहाल, सरकार ने वैक्सीन की 100 मिलियन डोज़ के लिए आर्डर दिया है, इससे

Month:

Advertisement