कोरोनावायरस

केंद्र सरकार ने कोरोनावायरस संक्रमण वाले बच्चों में रेमडेसिविर (Remdesivir) के इस्तेमाल पर रोक लगाई

हाल ही में केंद्र सरकार ने कोरोनावायरस से संक्रमित बच्चों में रेमडेसिविर के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। दरअसल हाल ही में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अंतर्गत स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (DGHS) ने 18 साल से कम उम्र के बच्चों में कोविड-19 के प्रबंधन के लिए व्यापक दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसके अलावा, पांच साल

Month:

ब्राज़ील ने भारत बायोटेक की वैक्सीन ‘कोवाक्सिन’ (COVAXIN) को आयात करने के लिए मंज़ूरी दी

ब्राज़ील ने हाल ही में भारतीय वैक्सीन ‘कोवाक्सिन’ के आयात को मंज़ूरी दे दी है। कोवाक्सिन का निर्माण हैदराबाद बेस्ड भारतीय कंपनी भारत बायोटेक द्वारा किया जाता है। इसके लिए ब्राज़ील के राष्ट्रीयस्वास्थ्य एजेंसी ने मंज़ूरी दी। मुख्य बिंदु गौरतलब है कि भारत से आयात की जाने वाली इन टीकों का उपयोग विशिष्ट परिस्थितियों में

Month:

जापान ने COVAX के लिए अतिरिक्त 800 मिलियन डॉलर देने का निर्णय लिया

जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा (Yoshihide Suga) ने COVAX सुविधा के लिए अतिरिक्त 800 मिलियन डॉलर देने के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त की है। मुख्य बिंदु COVAX को 800 मिलियन डॉलर के अतिरिक्त अनुदान का उद्देश्य “दुनिया भर में कोरोनावायरस टीकों का उचित वितरण” करना है। यह घोषणा एक “ऑनलाइन वैक्सीन शिखर सम्मेलन” के दौरान की

Month:

WHO ने भारत में पाए जाने वाले COVID-19 वेरिएंट का नामकरण किया

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने ग्रीक वर्णमाला के चार अक्षरों पर, वैश्विक चिंता के उभरते कोरोनावायरस वेरिएंट को लेबल करने के लिए कई नामों की सिफारिश की है। इसने भारत में पाए जाने वाले B.1.617.2 वेरिएंट को ‘डेल्टा’ नाम दिया है। मुख्य बिंदु यूके में पाए गये वेरिएंट को ‘अल्फा’ नाम दिया गया है। मौजूदा

Month:

हैम्स्टर्स में डीएनए टीके प्रभावकारी साबित हुए : अध्ययन

ताइवान के शोधकर्ताओं ने कोरोनावायरस स्पाइक प्रोटीन के डीएनए का उपयोग करके एक टीका विकसित किया और चूहे और हैम्स्टर्स (चूहे की एक प्रजाति) पर इसकी प्रभावकारिता का परीक्षण किया। यह तकनीक mRNA के टीकों से अलग है। मुख्य बिंदु डीएनए टीकों को आमतौर पर कोशिकाओं में पहुंचाना मुश्किल होता है।लेकिन, नेशनल हेल्थ रिसर्च इंस्टीट्यूट, ताइवान

Month:

पशु रोग जोखिम पर सलाह देने के लिए ‘One Health’ पैनल का गठन किया गया

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने तीन अन्य अंतरराष्ट्रीय निकायों के साथ विशेषज्ञों की एक टीम बनाई है जो जानवरों से मनुष्यों में बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए एक वैश्विक योजना विकसित करने में मदद करेगी। One Health यह पहल 2020 में फ्रांस और जर्मनी द्वारा शुरू की गई थी, लेकिन मई

Month:

1 / 3123

Advertisement