कोविशील्ड

इटली ने भारत के कोविशील्ड वैक्सीन को मान्यता दी

इटली ने 24 सितंबर, 2021 को कोरोनावायरस के खिलाफ कोविशील्ड वैक्सीन को मान्यता दी है। मुख्य बिंदु  कोरोनोवायरस के खिलाफ कोविशील्ड वैक्सीन को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया था, जबकि इसे सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित किया गया था। इटली द्वारा इस मान्यता के साथ, कोविशील्ड वैक्सीन लगाने

Month:

सिंगापुर ने ‘Vaccinated Travel Lanes’ की शुरुआत की

सिंगापुर ने पूरी तरह से टीकाकरण वाले यात्रियों के लिए ‘Vaccinated Travel Lanes’ शुरू की है। मुख्य बिंदु  कोविड-19 की पृष्ठभूमि में अंतर्राष्ट्रीय यात्रा को फिर से खोलना कोई सरल कार्य नहीं है। विभिन्न देश एयर बबल, यात्रा गलियारे, वैक्सीन पासपोर्ट और ट्रैफिक लाइट सिस्टम जैसी कई अवधारणाओं का प्रयोग कर रहे हैं। Vaccinated Travel

Month:

नकली कोविशील्ड टीकों पर WHO ने मेडिकल अलर्ट जारी किया

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भारत में नकली कोविशील्ड टीकों पर मेडिकल अलर्ट जारी किया। मुख्य बिंदु WHO ने भारत में मरीजों तक पहुंचने वाले कोविशील्ड की वास्तविकता पर संदेह जताया है। भारत कोविड-19 वैक्सीन की नकली शीशियों के प्रचलन की रिपोर्ट कर रहा है जिसे ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित किया गया है जबकि सीरम इंस्टीट्यूट

Month:

कोविशील्ड और कोवैक्सिन की मिश्रित खुराक बेहतर प्रतिरक्षा पैदा करती है : ICMR अध्ययन

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research – ICMR) ने एक अध्ययन में पाया कि कोविशील्ड (Covishield) की एक खुराक के बाद कोवाक्सिन (Covaxin) की एक खुराक लेने से प्रतिरक्षा (immunity) में काफी वृद्धि होती है। मुख्य बिंदु ‘Serendipitous Covid-19 Vaccine-Mix in Uttar Pradesh, India: Safety and Immunogenicity Assessment of a Heterologous Regime’

Month:

8 यूरोपीय देशों ने कोविशील्ड वैक्सीन को मंज़ूरी दी

8 यूरोपीय संघ के देशों ने इस क्षेत्र में प्रवेश करने के लिए स्वीकृत टीकों की सूची में कोविशील्ड को शामिल किया है। मुख्य बिंदु भारत द्वारा जवाबी कार्रवाई की चेतावनी दिए जाने के बाद 8 यूरोपीय संघ के देशों में कोविशील्ड की अनुमति दी गई है, दरअसल पहले यूरोपीय देशों ने ‘ग्रीन पास’ कोविशील्ड

Month:

भारत ने मॉडर्ना (Moderna) वैक्सीन के लाइसेंस को मंज़ूरी दी

भारत के दवा नियामक, DCGI, ने मुंबई बेस्ड दवा कंपनी सिप्ला (Cipla) को भारत में सीमित आपातकालीन उपयोग के लिए मॉडर्ना की COVID-19 वैक्सीन आयात करने की अनुमति दी है। मुख्य बिंदु मॉडर्ना की वैक्सीन भारत में कोवैक्सिन, कोविशील्ड और स्पुतनिक के बाद चौथी COVID-19 वैक्सीन होगी। एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड वैक्सीन कोविशील्ड यह टीका स्थानीय रूप से

Month:

1 / 212

Advertisement