जम्मू-कश्मीर

पल्ली: भारत की पहली ‘कार्बन-न्यूट्रल पंचायत’

जम्मू के सांबा जिले में स्थित पल्ली गाँव कार्बन न्यूट्रल, पूरी तरह से सौर ऊर्जा से संचालित होने वाली भारत की पहली पंचायत बन गई है, और इसके सभी रिकॉर्ड डिजिटल हो गए हैं जो केंद्रीय योजनाओं के सभी लाभों को आसानी से प्राप्त करने में मदद करेंगे। मुख्य बिंदु  प्रधानमंत्री मोदी ने इस कार्बन-न्यूट्रल

Month:

जम्मू-कश्मीर में Gulf Business Summit आयोजित किया गया

हाल ही में हांगकांग, संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब की 33 कंपनियों के प्रतिनिधि जम्मू-कश्मीर में निवेश के लिए बढ़ती स्थिति का आकलन करने के लिए श्रीनगर पहुंचे। मुख्य बिंदु  22 मार्च को, जम्मू और कश्मीर में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश के अवसरों की खोज पर चर्चा करने के उद्देश्य से प्रतिनिधियों ने Gulf

Month:

जम्मू-कश्मीर सरकार ने Village Defence Groups के लिए मंज़ूरी दी

जम्मू-कश्मीर की परिसीमन प्रक्रिया शुरू होने से पहले जम्मू और कश्मीर के गांवों के निवासियों को स्थानीय सुरक्षा के लिए नामांकित किया जाएगा। सरकार नेvillage defence groups (VDG) के गठन को मंजूरी दे दी है। मुख्य बिंदु  VDG इसलिए बनाए जाएंगे ताकि वे उन क्षेत्रों में खतरों का जवाब दे सकें जहां स्थानीय पुलिस की उपस्थिति

Month:

जम्मू-कश्मीर के FDI नीति को उपराज्यपाल ने मंज़ूरी दी

जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने जम्मू-कश्मीर के लिए न्यूनतम 51 प्रतिशत की विदेशी हिस्सेदारी के साथ प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) नीति को मंजूरी दी है। मुख्य बिंदु एलजी मनोज सिन्हा ने जम्मू में प्रशासनिक परिषद (Administrative Council) की बैठक के दौरान जम्मू-कश्मीर में औद्योगिक क्षेत्र में विदेशी निवेश को बढ़ावा देने की

Month:

जम्मू-कश्मीर में Women Safety Squad शुरू किये गये

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने हाल ही में श्रीनगर शहर में दो महिला सुरक्षा दस्ते (Women Safety Squad) शुरू किए हैं। प्रत्येक दस्ते में 5 महिला पुलिस अधिकारी या कर्मी शामिल होंगी। दोनों दस्तों का नेतृत्व इंस्पेक्टर खालिदा परवीन (Khalida Parveen) करेंगी। Women Safety Squad का उद्देश्य  संकट में फंसी महिलाओं की मदद के लिए Women Safety

Month:

जम्मू-कश्मीर में कांचोठ उत्सव (Kanchoth Festival) मनाया गया

हाल ही में, भद्रवाह के लोगों ने प्राचीन कांचोठ उत्सव (Kanchoth Festival) मनाया, जो प्राचीन नाग संस्कृति का प्रतीक है। कांचोठ उत्सव (Kanchoth Festival) भारी बर्फबारी और अत्यधिक शीत लहर की स्थिति के बीच यह त्योहार मनाया गया। महिलाओं सहित स्थानीय निवासियों ने पारंपरिक वस्त्र पहन कर उपवास रखा। इसके बाद वे पूजा-अर्चना के लिए मंदिरों

Month:

Advertisement