जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में खोला गया दुनिया का सबसे बड़ा इग्लू कैफे

हाल ही में जम्मू-कश्मीर में एक इग्लू कैफे खोला गया। यह अब दुनिया का सबसे बड़ा इग्लू कैफे है। इस कैफे का नाम स्नोग्लू (Snowglu) है। इसे वसीम शाह ने बनवाया है। मुख्य बिंदु  यह कैफे कश्मीर के गुलमर्ग में बनाया गया है। इसका व्यास 44.5 फीट और ऊंचाई 37.5 फीट है। यह कैफे इस क्षेत्र

Month:

ऑपरेशन सद्भावना (Operation Sadbhavana) क्या है?

ऑपरेशन सद्भावना भारतीय सेना द्वारा जम्मू-कश्मीर में शुरू किया गया था। इसका मुख्य उद्देश्य क्षेत्र में आतंकवाद से प्रभावित लोगों की मदद करना है। यह ऑपरेशन मुख्य रूप से लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए लक्षित है। यह ऑपरेशन क्यों शुरू किया गया? कश्मीर क्षेत्र में आतंकवादी संगठन सरकारी अधिकारियों को हटाने और सार्वजनिक

Month:

जम्मू-कश्मीर में सुगंधित पौधों की खेती पर जागरूकता अभियान शुरू किया गया

जम्मू-कश्मीर के युवाओं के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाने के लक्ष्य के साथ सरकार ने जम्मू-कश्मीर में एक विशेष जागरूकता अभियान शुरू किया है। मुख्य बिंदु कश्मीर में सुगंधित पौधों (aromatic plants) की खेती, प्रसंस्करण को लेकर उत्पादकों के लिए जागरूकता अभियान शुरू किया गया है। जलवायु की दृष्टि से, कश्मीर घाटी विभिन्न प्रकार की

Month:

जम्मू-कश्मीर में रणनीतिक क्षेत्र को मंज़ूरी दी गई, जानिए क्या होता है रणनीतिक क्षेत्र (strategic area)?

जम्मू और कश्मीर प्रशासन ने गुलमर्ग में एक हजार कनाल से अधिक और सोनमर्ग क्षेत्रों में 354 कनाल भूमि को “रणनीतिक क्षेत्र” घोषित करने की मंजूरी दे दी। मुख्य बिंदु  इस भूमि का उपयोग सशस्त्र बलों की “परिचालन और प्रशिक्षण आवश्यकताओं” के लिए किया जाएगा। जुलाई 2020 में, प्रशासन ने 1971 के एक सर्कुलर को

Month:

नीति आयोग जम्मू-कश्मीर में 1,000 अटल टिंकरिंग लैब स्थापित करेगा

नीति आयोग ने जम्मू-कश्मीर में 1000 अटल टिंकरिंग लैब (ATL) स्थापित करने की योजना बनाई है। मुख्य बिंदु  वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंत तक 1000 अटल टिंकरिंग प्रयोगशालाओं में से 187 की स्थापना की जाएगी। 187 ATL में से 31 जम्मू-कश्मीर के सरकारी स्कूलों में स्थापित किए जा रहे हैं, जबकि 50 KV, JNV और

Month:

जम्मू-कश्मीर: स्वयं सहायता समूहों के लिए ‘साथ’ पहल लांच की गयी

जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने 1 सितंबर, 2021 को स्वयं सहायता समूह (SHG) की महिलाओं के लिए ‘साथ’ नामक ग्रामीण उद्यम त्वरण कार्यक्रम (Rural Enterprises Acceleration Programme) लांच किया। मुख्य बिंदु  इस पहल से जम्मू-कश्मीर में लगभग 48,000 स्वयं सहायता समूहों को मदद मिलेगी, जिसमें लगभग चार लाख महिलाएं जुड़ी हुई हैं।

Month:

Advertisement