पश्चिमी विक्षोभ

‘पश्चिमी विक्षोभ’ (Western Disturbance) क्या हैं?

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अनुमान लगाया था कि पश्चिमी विक्षोभ के 11 जनवरी, 2022 से पूर्वी राज्यों से टकराने की संभावना है। मुख्य बिंदु यह भविष्यवाणी करते हुए IMD ने झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और बिहार राज्यों के लिए 11 जनवरी से 13 जनवरी के लिए पीले और नारंगी अलर्ट जारी किए। इन

Month:

मई, 2021 में पिछले 121 वर्षों में दूसरी सबसे अधिक बारिश दर्ज की गयी : भारतीय मौसम विज्ञान विभाग

भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department – IMD) के अनुसार, मई 2021 में पिछले 121 वर्षों में दूसरी सबसे अधिक वर्षा हुई है। मुख्य निष्कर्ष सबसे अधिक वर्षा दो लगातार चक्रवात और पश्चिमी विक्षोभ के कारण हुई है। भारतीय मौसम विभाग ने इस बात पर भी प्रकाश डाला है कि इस मई में भारत में

Month:

Advertisement