प्रदूषण

नई दिल्ली दुनिया का सबसे प्रदूषित राजधानी शहर है : IQAir

स्विस समूह “IQAir” जो कि पीएम 2.5 नामक फेफड़ों को नुकसान पहुंचाने वाले हवाई कणों की एकाग्रता के आधार पर वायु गुणवत्ता के स्तर को मापता है, ने अपनी “2020 World Air Quality Report” प्रस्तुत की है। इस रिपोर्ट के अनुसार भारत की राजधानी नई दिल्ली वर्ष 2020 में लगातार तीसरे वर्ष के लिए दुनिया भर में

Month:

चीन ने प्रदूषण फैलाने वाली इकाइयों को ट्रैक करने के लिए नया प्लेटफ़ॉर्म शुरू किया

चीन ने प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों के उत्सर्जन पर नज़र रखने के लिए एक नया प्लेटफार्म स्थापित करने की घोषणा की है। यह प्लेटफार्म जनता को ऐसे उद्यमों के उत्सर्जन को ट्रैक करने की अनुमति देगा और अधिकारियों को उन नियमों को तोड़ने वाले उद्योगों पर मुकदमा चलाने में मदद करेगा। मुख्य बिंदु चीन के पर्यावरण

Month:

पुरानी गाड़ियों पर ग्रीन टैक्स लगाएगी सरकार, जानिए क्या है ग्रीन टैक्स?

सड़क परिवहन मंत्रालय ने पुराने वाहनों पर अतिरिक्त कर लगाने का फैसला किया है। इस अतिरिक्त कर को “ग्रीन टैक्स” कहा जा रहा है।प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए यह निर्णय लिया गया। यह लोगों को वाहनों के लिए पर्यावरण के अनुकूल विकल्पों पर स्विच करने के लिए भी प्रेरित करेगा। मुख्य बिंदु ग्रीन टैक्स

Month:

गंगा के मैदानी क्षेत्र में एरोसोल के कारण अधिक वर्षा हो रही है : अध्ययन

हाल ही में शोधकर्ताओं की एक टीम ने पाया है कि ब्लैक कार्बन और धूल जैसे एरोसोल के कारण हिमालयी क्षेत्रों की तलहटी में अधिक वर्षा हो रही है। मुख्य बिंदु ब्लैक कार्बन और धूल सहित एरोसोल गंगा के मैदानी क्षेत्र  को दुनिया के सबसे प्रदूषित क्षेत्रों में से एक बनाते हैं। हालिया अध्ययन  नेशनल इंस्टीट्यूट

Month:

यमुना नदी में झाग क्यों पैदा हो रही है?

पिछले एक दशक से, यमुना नदी में झाग देखी गई है और पिछले 5 वर्षों से ऐसा ही हो रहा है। इसे यमुना रिवर इकोसिस्टम के पतन के एक प्रमुख संकेतक के रूप में देखा जा रहा है। इस घटना के लिए भौतिक और रासायनिक दोनों कारक जिम्मेदार हैं। कारण चूँकि ओखला बैराज में यमुना

Month:

यूके में कानूनी रूप से वायु प्रदूषण के कारण विश्व की पहली मृत्यु दर्ज की गयी

ब्रिटेन ने दुनिया की ऐसी पहली मृत्यु को कानूनी रूप से प्रमाणित किया है जो वायु प्रदूषण के कारण हुई है। लंदन में एक व्यस्त सड़क के पास रहने वाली एक 9 साल की लड़की की सांस की तकलीफ के कारण मृत्यु हो गयी है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार, दुनिया भर में वायु प्रदूषण से प्रति वर्ष 4.2

Month:

Advertisement