भारतीय अर्थव्यवस्था

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार (India’s Forex Reserve) 610.012 अरब डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा

2 जुलाई, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 1.013 अरब डॉलर की वृद्धि के साथ 610.012 अरब डॉलर के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है।

Month:

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार (India’s Forex Reserve) 608.999 अरब डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा

25  जून, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 5.066 अरब डॉलर की कमी के साथ 608.999 अरब डॉलर के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है। विदेशी

Month:

S&P ने भारत की वृद्धि दर का अनुमान घटाकर 9.5% किया

वैश्विक रेटिंग एजेंसी  S&P ने वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए भारत के विकास के अनुमान को घटाकर 9.5% कर दिया है। पहले इसे 11% पर रखा गया था। मुख्य बिंदु रेटिंग एजेंसी ने COVID-19 महामारी की आगामी लहरों से विकास दर के जोखिम की चेतावनी दी है। S&P ने विकास अनुमान को कम कर दिया क्योंकि

Month:

2020-21 के दौरान भारत का कृषि निर्यात 17.34% बढ़ा

2020-21 में भारत के कृषि और इससे सम्बंधित उत्पादों के निर्यात में 17.34% की वृद्धि हुई है। यह अब 41.25 बिलियन डालर के बराबर है। मुख्य बिंदु वाणिज्य सचिव अनूप वाधवन के अनुसार, कृषि निर्यात में यह वृद्धि चालू वित्त वर्ष के दौरान भी बरकरार रहने की उम्मीद है। भारत ने अनाज, गेहूं, बाजरा, गैर-बासमती चावल,

Month:

Costs of Climate Change in India रिपोर्ट जारी की गयी, रिपोर्ट का दावा है कि भारत की GDP में सालाना कमी आएगी

लंदन बेस्ड वैश्विक थिंक टैंक ओवरसीज डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट (Overseas Development Institute) ने “Costs of Climate change in India” नामक अपनी रिपोर्ट प्रकाशित की। इस रिपोर्ट में भारत में जलवायु से संबंधित जोखिमों की आर्थिक लागत और बढ़ती असमानता और गरीबी की संभावना का विश्लेषण किया गया है। मुख्य निष्कर्ष इस रिपोर्ट के अनुसार, जलवायु परिवर्तन का

Month:

विश्व बैंक ने भारत के MSME सेक्टर की मदद के लिए 500 मिलियन डालर के कार्यक्रम को मंजूरी दी

हाल ही में विश्व बैंक ने भारत के MSME सेक्टर को बढ़ावा देने में मदद के लिए 500 मिलियन डालर के कार्यक्रम को मंजूरी दी है। इस कार्यक्रम का लक्ष्य 5,50,000 MSME के प्रदर्शन में सुधार का है। मुख्य बिंदु गौरतलब है कि भारत में लगभग 58 मिलियन MSMEs में से 40 प्रतिशत से अधिक

Month:

2 / 512345

Advertisement