भारतीय रिज़र्व बैंक

भारतीय रिजर्व बैंक ने रुपये (INR) में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के लिए मैकेनिज्म पेश किया

11 जुलाई, 2022 को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने “रुपये में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार” को व्यवस्थित करने के लिए नए उपायों को अधिसूचित किया। यह कदम वैश्विक व्यापार को बढ़ावा देगा और भारत से निर्यात पर जोर देगा। नया मैकेनिज्म भारतीय रिजर्व बैंक ने चालान, भुगतान, साथ ही रुपये में निर्यात या आयात के निपटान के उद्देश्य

Month:

मुद्रा और वित्त पर RBI ने रिपोर्ट जारी (RBI Report on Currency and Finance) की

हाल ही में, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने वर्ष 2021-22 के लिए मुद्रा और वित्त (Report on Currency and Finance – RCF) पर रिपोर्ट जारी की। रिपोर्ट की थीम क्या है? इस रिपोर्ट का विषय “Revive and Reconstruct” है, जो एक टिकाऊ रिकवरी पोस्ट-कोविड ​​​​को पोषित करने और मध्यम अवधि में प्रवृत्ति वृद्धि को बढ़ाने

Month:

अब UPI के माध्यम से ATM से पैसे निकालने जा सकेंगे : RBI

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा सभी ATM पर कार्डलेस नकद निकासी की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। यह सुविधा बैंक की परवाह किए बिना यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) के जरिए उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्य बिंदु  यह फैसला RBI की मौद्रिक नीति समिति (Monetary Policy Committee – MPC) ने किया। RBI ने सभी बैंकों को एटीएम

Month:

1 अप्रैल: भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस

1 अप्रैल को भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस मनाया जाता है, इसकी स्थापना 1 अप्रैल, 1935 को की गयी थी। पृष्ठभूमि RBI से पहले, केंद्रीय बैंक के सभी कार्य इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया (Imperial Bank of India) द्वारा किए जा रहे थे। इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया अधिनियम, 1920 के माध्यम से इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया

Month:

पेमेंट सिस्टम टच पॉइंट्स की जियो-टैगिंग के लिए फ्रेमवर्क जारी किया गया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा पेमेंट सिस्टम टच पॉइंट्स की जियो-टैगिंग से संबंधित फ्रेमवर्क जारी किया गया है। मुख्य बिंदु  यह फ्रेमवर्क भारत के सभी नागरिकों को ऐसी सेवाओं तक पहुंच प्रदान करने के साथ-साथ डिजिटल भुगतान को गहरा करने के RBI के उद्देश्य के एक हिस्से के रूप में बनाया गया है। इस प्रणाली

Month:

अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी की, भारत पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा?

2018 के बाद पहली बढ़ोतरी में अमेरिकी फेडरल रिजर्व (US Federal Reserve) ने ब्याज दरों में 25 आधार अंकों की वृद्धि की। वृद्धि के कारण फरवरी में, अमेरिका में मुद्रास्फीति 7.9% तक पहुंच गई, जो 40 वर्षों में सबसे अधिक है। रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण वैश्विक वस्तुओं की कीमतों में भी वृद्धि हुई है। इस प्रकार,

Month:

Advertisement