भारतीय सेना

मनोज पांडे (Manoj Pande) बने भारतीय सेना के नए सेनाध्यक्ष

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे (Manoj Pande) ने भारतीय सेना के 29वें प्रमुख के रूप में जनरल मनोज मुकुंद नरवणे की जगह ली। मुख्य बिंदु लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ (COAS) बनने वाले पहले इंजीनियर बन गए हैं। उन्होंने 1 मई 2022 से इस पद का कार्यभार संभाला। 1 फरवरी को उन्होंने उप सेना

Month:

भारतीय सेना और महाराष्ट्र पुलिस ने ‘सुरक्षा कवच 2’ (Suraksha Kavach 2) अभ्यास का आयोजन किया

22 मार्च 2022 को, भारतीय सेना के अग्निबाज़ डिवीजन और महाराष्ट्र पुलिस के बीच ‘सुरक्षा कवच 2’ नामक एक संयुक्त अभ्यास पुणे के लुल्लानगर में आयोजित किया गया। मुख्य बिंदु  इस अभ्यास में भारतीय सेना के काउंटर टेररिज्म टास्क फोर्स (CTTF), महाराष्ट्र पुलिस के आतंकवाद-रोधी दस्ते के साथ-साथ डॉग स्क्वॉड, क्विक रिएक्शन टीम्स (QRTs), और

Month:

भारतीय सेना उज्बेकिस्तान के साथ दुस्तलिक अभ्यास (EX- DUSTLIK) में भाग लेगी

दुस्तलिक अभ्यास (EX- DUSTLIK) एक संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास है जो भारत और उज्बेकिस्तान की सेनाओं के बीच आयोजित किया जाता है। इस अभ्यास का तीसरा संस्करण 22 से 31 मार्च, 2022 तक यांगियारिक, उज्बेकिस्तान में आयोजित किया जा रहा है । मुख्य बिंदु  Ex-DUSTLIK का अंतिम संस्करण मार्च 2021 में रानीखेत, उत्तराखंड में आयोजित किया गया था।

Month:

LAMITIYE-2022 संयुक्त सैन्य अभ्यास में भाग लेगी भारतीय सेना

भारतीय सेना और सेशेल्स रक्षा बल (Seychelles Defence Forces – SDF) 22 मार्च से 31 मार्च, 2022 तक सेशेल्स में सेशेल्स रक्षा अकादमी (SDA) में 9वें संयुक्त सैन्य अभ्यास LAMITIYE-2022 का आयोजन करेंगे। मुख्य बिंदु  इस अभ्यास में भारतीय सेना और सेशेल्स रक्षा बलों (SDF) की ओर से इन्फैंट्री प्लाटून भाग लेंगी। इस अभ्यास का

Month:

BDL करेगा भारतीय सेना को कोंकर्स-एम (Konkurs-M) एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल की आपूर्ति

3 फरवरी, 2022 को भारत डायनेमिक्स लिमिटेड (BDL) और भारतीय सेना ने कोंकर्स-एम एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइलों के निर्माण और आपूर्ति के लिए 3,131.82 करोड़ रुपये के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। मुख्य बिंदु  यह अनुबंध तीन साल में पूरा किया जाएगा। BDL की ऑर्डर बुक पोजीशन 11,400 करोड़ रुपये है, जिसमें कोंकर्स-एम कॉन्ट्रैक्ट भी शामिल है।

Month:

रूस ने भारत को S-400 मिसाइल सिस्टम की डिलीवरी शुरू की

भारत की वायु-रक्षा क्षमताओं को बढ़ावा देने के लिए रूस ने भारत को S-400 मिसाइल प्रणाली की डिलीवरी शुरू कर दी है। मुख्य बिंदु  रूस ने 2021 में शेड्यूल पर तैनाती के लिए डिलीवरी शुरू की। भारत ने 2018 में इस सिस्टम को 5 अरब अमेरिकी डॉलर में खरीदा था। भारत ने 2018 में S-400

Month:

Advertisement