म्यांमार

अमेरिका ने यूरोपीय संघ के नेतृत्व में म्यांमार मानवाधिकार पर प्रस्ताव को सह-प्रायोजित किया

अमेरिका ने रोहिंग्या सहित म्यांमार में चल रहे मानवाधिकारों की चिंताओं को उजागर करते हुए यूरोपीय संघ (European Union – EU) के नेतृत्व में एक प्रस्ताव को सह-प्रायोजित किया है। इसने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UN Human Rights Council – UNHRC) के 46वें सत्र में 1 फरवरी से किए गए घटनाक्रमों को भी याद किया है।

Month:

ऑस्ट्रेलिया ने म्यांमार के साथ रक्षा सहयोग निलंबित किया

ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने म्यांमार के साथ अपने रक्षा सहयोग को निलंबित कर दिया है और उस मानवीय सहायता को पुनर्निर्देशित करने का फैसला किया है जो ऑस्ट्रेलिया म्यांमार की सरकार को प्रदान कर रहा था। यह निर्णय म्यांमार सरकार के तख्तापलट और म्यांमार में ऑस्ट्रेलियाई नागरिक को हिरासत में लेने के बाद द्वारा लिया गया।

Month:

अमेरिका ने म्यांमार के सैन्य नेताओं पर प्रतिबंधों की घोषणा की

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाईडेन ने 10 फरवरी 2021 को म्यांमार में सैन्य नेताओं पर प्रतिबंधों की घोषणा की। मुख्य बिंदु म्यांमार के सैन्य नेताओं को 1 बिलियन डॉलर के सरकारी धन तक पहुँचने से रोकने के लिए बाईडेन  प्रशासन द्वारा प्रतिबंध लगाए गए थे। सरकार प्रतिबंधों के लक्ष्यों की पहचान करेगी और निर्यात प्रतिबन्ध

Month:

म्यांमार सेना ने राज्य प्रशासनिक परिषद को लांच किया

म्यांमार में सैन्य शासन ने एक नई राज्य प्रशासनिक परिषद की घोषणा की है। सेना प्रमुख जनरल आंग ह्लाइंग इस परिषद् के अध्यक्ष हैं,  इसमें 11 अन्य सदस्य शामिल हैं। मुख्य बिंदु राज्य प्रशासनिक परिषद के 11 सदस्यों में से आठ सैनिक हैं। जनरल मिन आंग ह्लाइंग ने केंद्र सरकार की बैठक को संबोधित करते हुए

Month:

म्यांमार में सैन्य तख्तापलट, आपातकाल की घोषणा की गयी

म्यांमार की सेना ने देश पर नियंत्रण कर लिया है और एक साल के आपातकाल की घोषणा की गई है। इसके अलावा, स्टेट काउंसलर आंग सान सू की और अन्य नेताओं को हिरासत में लिया गया है। आपातकाल की घोषणा क्यों की गई? 2020 के नवंबर चुनावों को COVID-19 महामारी के बीच स्थगित कर दिया

Month:

CLMV देश कौन से हैं?

हाल ही में भारत-CLMV बिजनेस कॉन्क्लेव 2020 आयोजित किया गया। इस कॉन्क्लेव के दौरान, भारत ने CLMV देशों को अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन और लचीली आपूर्ति श्रृंखला पहल में शामिल होने के लिए भी आमंत्रित किया । इस कॉन्क्लेव का आयोजन “Building Bridges for Constructive Development” के तहत किया गया। इस कॉन्क्लेव के दौरान, भारत ने

Month:

Advertisement