राजनाथ सिंह

भारतीय वायुसेना (IAF) में महिला फाइटर पायलटों को स्थाई तौर पर शामिल किया जायेगा

1 फरवरी, 2022 को, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने महिलाओं को लड़ाकू पायलटों के रूप में शामिल करने की प्रायोगिक योजना को स्थायी में बदलने के सरकार के फैसले की घोषणा की। मुख्य बिंदु भारतीय वायु सेना (IAF) में महिलाओं को लड़ाकू विमान उड़ाने की अनुमति देने की प्रायोगिक योजना छह साल पहले 2015 में

Month:

भारत ने 27 सीमा अवसंरचना परियोजनाओं (Border Infrastructure Projects) को लांच किया

28 दिसंबर, 2021 को भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वर्चुअली 24 पुलों और तीन सड़कों का उद्घाटन किया, जिनका निर्माण सीमा सड़क संगठन (Border Roads Organisation – BRO) द्वारा किया गया है। मुख्य बिंदु इन पुलों और सड़कों का निर्माण भारत के चार राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में किया गया है। इस

Month:

ब्रह्मोस मिसाइल निर्माण इकाई का उद्घाटन किया गया

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 26 दिसंबर, 2021 को लखनऊ में ब्रह्मोस एयरोस्पेस क्रूज मिसाइल निर्माण इकाई का उद्घाटन किया। मुख्य बिंदु  इस अवसर पर रक्षा मंत्री ने दोहराया कि रूस भारत का रणनीतिक साझेदार है। उन्होंने भारत में बाहरी खतरों को रोकने के लिए भारत के परमाणु और अन्य सैन्य प्रतिरोधों का भी समर्थन

Month:

आपदा प्रबंधन पर 5वीं विश्व कांग्रेस (WCDM) : मुख्य बिंदु

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 24 नवंबर, 2021 को  वर्चुअली “आपदा प्रबंधन पर 5वीं विश्व कांग्रेस (WCDM)” का उद्घाटन किया। मुख्य बिंदु इस सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए, मंत्री ने कहा कि, भारतीय सशस्त्र बलों ने बार-बार प्रदर्शित किया है कि वे प्राकृतिक या मानव निर्मित आपदाओं के बीच अंतर किए बिना भारत के भागीदारों की देखभाल करते हैं

Month:

रक्षा मंत्री ने नई दिल्ली में ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष के साथ द्विपक्षीय बैठक की

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 10 सितंबर, 2021 को नई दिल्ली में अपने ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष पीटर डटन के साथ द्विपक्षीय बैठक की। मुख्य बिंदु  पीटर डटन 2+2 मंत्रिस्तरीय वार्ता के लिए एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ भारत की अपनी पहली आधिकारिक यात्रा पर हैं। दोनों देश भारत-ऑस्ट्रेलिया व्यापक रणनीतिक साझेदारी की पूरी क्षमता

Month:

रक्षा मंत्री ने युद्ध इतिहास के अवर्गीकरण के लिए नई नीति को मंज़ूरी दी

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने युद्ध के इतिहास को सार्वजनिक करने की नीति को मंजूरी दे दी है। नई नीति के बारे में मुख्य बिंदु इस नीति के तहत, रक्षा मंत्रालय युद्ध और ऑपरेशन इतिहास को संग्रहित (archive), अवर्गीकृत (declassify), संकलित (compile) और प्रकाशित (publish) करेगा। हालाँकि, 1962 के युद्ध जैसे पुराने युद्धों का अवर्गीकरण

Month:

Advertisement