लद्दाख

लद्दाख को मिला अपना पहला FM रेडियो स्टेशन

14 दिसंबर, 2021 को लद्दाख को राजधानी लेह में अपना पहला FM रेडियो स्टेशन प्राप्त हुआ। मुख्य बिंदु लेह में पहली बार टॉप एफएम रेडियो लद्दाख के सलाहकार उमंग नरूला द्वारा लॉन्च किया गया। लेह और कारगिल के लिए फ्रीक्वेंसी 91.1 FM होगी। FM प्रसारण FM प्रसारण फ़्रीक्वेंसी मॉड्यूलेशन (FM) के माध्यम से रेडियो प्रसारण

Month:

लद्दाख का नया राज्य पशु और राज्य पक्षी : मुख्य बिन्दु

लद्दाख ने 1 सितंबर, 2021 को दो लुप्तप्राय प्रजातियों हिम तेंदुआ (snow leopard) और ब्लैक नेक्ड क्रेन (black-necked crane) को क्रमशः अपने राज्य पशु और राज्य पक्षी के रूप में अपनाया । मुख्य बिंदु लद्दाख ने इन प्रजातियों को जम्मू और कश्मीर राज्य से अलग होने  के दो साल बाद अपनाया है। हिम तेंदुआ और ब्लैक नेक्ड क्रेन अधिसूचना जारी होने की तारीख

Month:

लद्दाख में दुनिया की सबसे ऊंची मोटर योग्य सड़क का उद्घाटन किया गया

लेह को पैंगोंग झील (Pangong Lake) से जोड़ने वाली एक सड़क का उद्घाटन 31 अगस्त, 2021 को लद्दाख के सांसद जम्यांग त्सेरिंग नामग्याल (Jamyang Tsering Namgyal) ने किया था। मुख्य बिंदु  18,600 फीट की ऊंचाई पर केला दर्रे (Kela Pass) से गुजरने वाला सड़क का यह हिस्सा दुनिया का सबसे ऊंचा मोटर मार्ग है। इस

Month:

लद्दाख ने भारतीय नागरिकों के लिए इनर लाइन परमिट (Inner Line Permit) की आवश्यकता को समाप्त किया

लद्दाख प्रशासन ने उन सभी भारतीय नागरिकों के लिए इनर लाइन परमिट (Inner Line Permit – ILP) की आवश्यकता को हटा दिया है जो लद्दाख के संरक्षित क्षेत्रों का दौरा करना चाहते हैं। मुख्य बिंदु  लद्दाख प्रशासन ने 6 अगस्त 2021 को इनर लाइन परमिट के संबंध में अधिसूचना जारी की। इस अधिसूचना के अनुसार,

Month:

भारत-चीन सीमा विवाद: पूर्वी लद्दाख के गोगरा क्षेत्र में सैनिकों को हटाया गया

भारत और चीन पूर्वी लद्दाख के गोगरा क्षेत्र में अपने सैनिकों को हटाने पर सहमत हो गए हैं। मुख्य बिंदु  दोनों पक्ष क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा (Line of Actual Control) बहाल करने पर सहमत हो गए हैं। 15 महीने के स्टैंड-ऑफ के बाद सेना को हटाने की प्रक्रिया को अंजाम दिया गया, जिसके परिणामस्वरूप

Month:

केन्द्रीय कैबिनेट ने लद्दाख में केन्द्रीय विश्वविद्यालय (Central University) को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने लद्दाख में एक केंद्रीय विश्वविद्यालय के गठन को अपनी मंजूरी दे दी है। इस विश्वविद्यालय के गठन के लिए इस परियोजना की लागत 750 करोड़ रुपये होगी। मुख्य बिंदु चार साल में इस विश्वविद्यालय का पहला चरण पूरा हो जाएगा। लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय के गठन की सुविधा के लिए केंद्रीय विश्वविद्यालय

Month:

Advertisement