विजय दिवस

रूस में विजय दिवस (Victory Day) मनाया गया

9 मई को रूस में “विजय दिवस” ​​​​के रूप में मनाया जाता है। विजय दिवस क्यों मनाया जाता है? द्वितीय विश्व युद्ध में नाजी जर्मनी को हराने में सोवियत संघ की भूमिका की स्मृति में विजय दिवस दिवस मनाया जाता है। यह पहली बार 1965 में सोवियत नेता लियोनिद ब्रेजनेव के तहत मनाया गया था।

Month:

16 दिसम्बर : विजय दिवस (Vijay Diwas)

16 दिसम्बर को प्रतिवर्ष भारत में विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है, यह 1971 के युद्ध में भारत की विजय का प्रतीक है। इस दिवस के अवसर पर 1971 के युद्ध में शहीद हुए वीर सैनिकों के सम्मान में श्रद्धांजली समर्पित की जाती है। इस युद्ध के द्वारा बांग्लादेश पाकिस्तान से स्वतंत्र हुआ

Month:

विजय दिवस (Victory Day) : 9 मई

दूसरे विश्व युद्ध में जर्मनों के आत्मसमर्पण को चिह्नित करने के लिए रूस में विजय दिवस मनाया जाता है। मास्को विजय दिवस परेड (Moscow Victory Day Parade) 9 मई, 2021 को, रूस ने द्वितीय विश्व युद्ध में जीत की 76वीं वर्षगांठ के रूप में चिह्नित किया। मॉस्को के रेड स्क्वायर पर एक सैन्य परेड आयोजित की गई थी। यह परेड 1995

Month:

प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-पाक युद्ध की 50वीं वर्षगाँठ पर स्वर्णिम विजय मशाल प्रज्वलित की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 दिसंबर, 2020 को दिल्ली में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर ‘स्वर्णिम विजय मशाल’ प्रज्वलित की। 1971 में पाकिस्तान पर भारत की जीत की 50वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में ‘स्वर्णिम विजय मशाल’ प्रज्वलित की गयी। इस दिन को विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। विजय दिवस भारत में हर साल

Month:

16 दिसम्बर : आज देश भर में मनाया जा रहा है विजय दिवस

16 दिसम्बर को प्रतिवर्ष भारत में विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है, यह 1971 के युद्ध में भारत की विजय का प्रतीक है। इस दिवस के अवसर पर 1971 के युद्ध में शहीद हुए वीर सैनिकों के सम्मान में श्रद्धांजली समर्पित की जाती है। इस युद्ध के द्वारा बांग्लादेश पाकिस्तान से स्वतंत्र हुआ

Month:

Advertisement