AIIMS

पीएम मोदी ने राजकोट में एम्स की आधारशिला रखी

31 दिसम्बर, 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुजरात के राजकोट में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) की आधारशिला रखी।

मुख्य बिंदु

इस परियोजना के लिए 201 एकड़ भूमि आवंटित की गई है। इस एम्स का निर्माण 1195 करोड़ रुपये की लागत से किया जायेगा। यह एम्स 2022 तक बनकर तैयार हो जायेगा। इस कैंपस का निर्माण सार्वजनिक क्षेत्र की मिनीरत्न कंपनी HSCC लिमिटेड द्वारा किया जाएगा। इस कैंपस में 9 भवनों के संभावित चित्रों को भी मंज़ूरी दी गयी है।

एम्स राजकोट

इस एम्स में 750 बेड होंगे, यह एक अत्याधुनिक अस्पताल होगा। इसमें 30 बेड का आयुष ब्लॉक भी होगा। इसमें 125 एमबीबीएस सीटें और 60 नर्सिंग सीटें होंगी। गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी इस अवसर पर उपस्थित रहे। एम्स राजकोट में स्पेशिलिटी और सुपर-स्पेशलिटी डिपार्टमेंट भी होंगे।

गौरतलब है कि एम्स राजकोट के पहले बैच के अकादमिक सत्र का उद्घाटन 21 दिसम्बर को गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी और केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने किया था। फिलहाल, एम्स राजकोट के शैक्षणिक सत्र की शुरुआत पंडित दीनदयाल उपाध्याय मेडिकल कॉलेज में की गयी है। पहले बैच में 50 एमबीबीएस छात्र हैं।

Month:

पीएम मोदी गुजरात के राजकोट में एम्स की आधारशिला रखेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 दिसम्बर, 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुजरात के राजकोट में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) की आधारशिला रखेंगे।

मुख्य बिंदु

इस परियोजना के लिए 201 एकड़ भूमि आवंटित की गई है। इस एम्स का निर्माण 1195 करोड़ रुपये की लागत से किया जायेगा। यह एम्स 2022 तक बनकर तैयार हो जायेगा। इस कैंपस का निर्माण सार्वजनिक क्षेत्र की मिनीरत्न कंपनी HSCC लिमिटेड द्वारा किया जाएगा। इस कैंपस में 9 भवनों के संभावित चित्रों को भी मंज़ूरी दी गयी है।

एम्स राजकोट

इस एम्स में 750 बेड होंगे, यह एक अत्याधुनिक अस्पताल होगा। इसमें 30 बेड का आयुष ब्लॉक भी होगा। इसमें 125 एमबीबीएस सीटें और 60 नर्सिंग सीटें होंगी। गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। एम्स राजकोट में स्पेशिलिटी और सुपर-स्पेशलिटी डिपार्टमेंट भी होंगे।

गौरतलब है कि एम्स राजकोट के पहले बैच के अकादमिक सत्र का उद्घाटन 21 दिसम्बर को गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी और केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने किया था। फिलहाल, एम्स राजकोट के शैक्षणिक सत्र की शुरुआत पंडित दीनदयाल उपाध्याय मेडिकल कॉलेज में की गयी है। पहले बैच में 50 एमबीबीएस छात्र हैं।

Month:

Advertisement