BIMSTEC

5वां बिम्सटेक शिखर सम्मेलन (BIMSTEC Summit) आयोजित किया गया

5वां बिम्सटेक शिखर सम्मेलन 30 मार्च, 2022 को श्रीलंका में हाइब्रिड मोड में आयोजित किया गया। इससे पहले 28 और 29 मार्च को विदेश मंत्री और वरिष्ठ अधिकारी स्तर पर तैयारी बैठकें आयोजित की गई। बिम्सटेक शिखर सम्मेलन के परिणाम बिम्सटेक शिखर सम्मेलन 2022 का मुख्य परिणाम बिम्सटेक चार्टर को अपनाना और उस पर हस्ताक्षर

Month:

बिम्सटेक चार्टर (BIMSTEC Charter) पर हस्ताक्षर किये जायेंगे

30 मार्च को श्रीलंका के कोलंबो में आयोजित होने वाले 5वें बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में 6 दस्तावेजों को स्वीकार किए जाने और हस्ताक्षर किए जाने की संभावना है, जिनमें बिम्सटेक चार्टर भी शामिल है। मुख्य बिंदु  बिम्सटेक देशों के शासनाध्यक्ष वर्चुअल मोड के माध्यम से इस शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे जबकि विदेश सचिव और

Month:

BIMSTEC देश करेंगे PANEX-21 का आयोजन

PANEX-21 एक मानवीय सहायता और आपदा राहत अभ्यास है। यह बिम्सटेक देशों के लिए आयोजित किया जायेगा। PANEX-21 यह एक बहुराष्ट्रीय आपदा राहत अभ्यास है। यह अभ्यास बिम्सटेक देशों के बीच आयोजित जायेगा, इन देशों में शामिल हैं : भूटान, बांग्लादेश, नेपाल, म्यांमार, श्रीलंका, भारत और थाईलैंड। इस अभ्यास का मुख्य उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं के जवाब

Month:

बिम्सटेक देशों के कृषि विशेषज्ञों की 8वीं बैठक आयोजित की गयी

बिम्सटेक (BIMSTEC – Bay of Bengal Initiative for Multi-Sectoral Technical and Economic Cooperation) देशों के कृषि विशेषज्ञों की 8वीं बैठक 31 अगस्त, 2021 को भारत द्वारा आयोजित की गई। मुख्य बिंदु इस बैठक में बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, श्रीलंका, भारत, म्यांमार और थाईलैंड के कृषि मंत्रालयों ने भाग लिया। इस बैठक के दौरान, अध्यक्ष ने संयुक्त

Month:

बिम्सटेक (BIMSTEC) के 24 वर्ष पूरे हुए, जानिए क्या है बिम्सटेक?

6 जून को 24वें बिम्सटेक दिवस पर बधाई देते हुए, पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि बिम्सटेक एक आशाजनक क्षेत्रीय समूह के रूप में उभरा है और इसमें कनेक्टिविटी समेत कई क्षेत्रों में प्रगति की है। बिम्सटेक क्या है? (What is BIMSTEC?) बिम्सटेक (BIMSTEC) का अर्थ “Bay of Bengal Initiative for Multi-Sectoral Technical and Economic Cooperation” (बहु-क्षेत्रीय

Month:

नेपाल के सर्वोच्च न्यायालय ने सरकार द्वारा भंग संसद को बहाल किया

नेपाल के सर्वोच्च न्यायालय ने भंग की गयी प्रतिनिधि सभा को बहाल कर दिया है। मुख्य न्यायाधीश चोलेंद्र शमशेर राणा के नेतृत्व में पांच सदस्यीय संवैधानिक पीठ ने 20 दिसंबर 2020 को प्रतिनिधि सभा को भंग करने के सरकार के फैसले को रद्द कर दिया। इससे पहले नेपाल की राष्ट्रपति बिध्या देवी भंडारी ने संसद को

Month:

Advertisement