DCGI

2-18 साल के बच्चों में आपातकालीन उपयोग के लिए कोवैक्सिन (Covaxin) को मंजूरी दी गई

कोविड-19 पर विषय विशेषज्ञ समिति ने 2-18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए भारत बायोटेक के कोवैक्सिन वैक्सीन के “आपातकालीन उपयोग” को मंजूरी दे दी है। मुख्य बिंदु सितंबर के महीने में 18 साल से कम उम्र के बच्चों पर हैदराबाद बेस्ड भारत बायोटेक द्वारा कोवैक्सिन वैक्सीन के चरण-2 और चरण-3 का परीक्षण किया

Month:

CORBEVAX को क्लिनिकल परीक्षण के लिए DCGI की मंजूरी मिली

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने दो नैदानिक ​​​​परीक्षणों के लिए CORBEVAX नामक एक अन्य स्वदेशी COVID-19 वैक्सीन उम्मीदवार को मंजूरी दी। मुख्य बिंदु  वैक्सीन निर्माता बायोलॉजिकल ई को 5 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों पर चरण दो और तीन नैदानिक ​​परीक्षण करने की मंजूरी मिली है। बायोटेक्नोलॉजी विभाग (DBT) और बायोटेक्नोलॉजी

Month:

DCGI ने आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण के लिए ZyCoV-D वैक्सीन को मंजूरी दी

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DGCI) ने Zydus Cadila द्वारा आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण के लिए ZyCoV-D वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। मुख्य बिंदु विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अनुसार, ZyCoV-D वैक्सीन COVID-19 के लिए दुनिया की पहली और भारत की स्वदेशी रूप से विकसित डीएनए-आधारित वैक्सीन है। यह 12 साल और उससे अधिक उम्र

Month:

भारत ने मॉडर्ना (Moderna) वैक्सीन के लाइसेंस को मंज़ूरी दी

भारत के दवा नियामक, DCGI, ने मुंबई बेस्ड दवा कंपनी सिप्ला (Cipla) को भारत में सीमित आपातकालीन उपयोग के लिए मॉडर्ना की COVID-19 वैक्सीन आयात करने की अनुमति दी है। मुख्य बिंदु मॉडर्ना की वैक्सीन भारत में कोवैक्सिन, कोविशील्ड और स्पुतनिक के बाद चौथी COVID-19 वैक्सीन होगी। एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड वैक्सीन कोविशील्ड यह टीका स्थानीय रूप से

Month:

Advertisement