GDP

RBI मौद्रिक नीति समिति (Monetary Policy Committee) घोषणाएं : मुख्य बिंदु

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तीन सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति (MPC) ने एक उदार रुख बनाए रखा और विकास को पुनर्जीवित करने और बनाए रखने और कोविड -19 महामारी के प्रभाव को कम करने के लिए रेपो दर को 4% पर अपरिवर्तित रखा है। मुख्य बिंदु मौद्रिक नीति समिति ने यह भी सुनिश्चित किया है

Month:

ADB ने तमिलनाडु की शहरी गरीब आवास परियोजना के लिए $150 मिलियन के ऋण को मंजूरी दी

3 सितंबर, 2021 को, एशियाई विकास बैंक (ADB) ने तमिलनाडु शहरी गरीब आवास परियोजना के लिए $150 मिलियन के ऋण को मंजूरी दी। मुख्य बिंदु ADB के अनुसार, तमिलनाडु भारत के आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण है। यह वर्तमान में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में 8.54% का योगदान दे रहा है। राज्य में आर्थिक अवसरों

Month:

वित्त वर्ष 2021 की पहली तिमाही में भारत की GDP वृद्धि दर 20.1% रही

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, जून 2021 तक भारत की आर्थिक वृद्धि तिमाही में रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गई। मुख्य बिंदु  यह 2020 में एक बहुत ही कमजोर आधार, उपभोक्ता खर्च में पलटाव और कोविड मामलों की दूसरी लहर के बीच बेहतर विनिर्माण को दर्शाता है। आंकड़ों के अनुसार, 2020

Month:

Costs of Climate Change in India रिपोर्ट जारी की गयी, रिपोर्ट का दावा है कि भारत की GDP में सालाना कमी आएगी

लंदन बेस्ड वैश्विक थिंक टैंक ओवरसीज डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट (Overseas Development Institute) ने “Costs of Climate change in India” नामक अपनी रिपोर्ट प्रकाशित की। इस रिपोर्ट में भारत में जलवायु से संबंधित जोखिमों की आर्थिक लागत और बढ़ती असमानता और गरीबी की संभावना का विश्लेषण किया गया है। मुख्य निष्कर्ष इस रिपोर्ट के अनुसार, जलवायु परिवर्तन का

Month:

वित्त वर्ष 2021 में जीडीपी में 7.7% की कमी आ सकती है  : NSO

हाल ही में राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) ने देश के लिए GDP का पहला अग्रिम अनुमान जारी किया है। एनएसओ के अनुमानों के अनुसार, वर्ष 2020-21 में भारत के सकल घरेलू उत्पाद में 7.7% की कमी आएगी। मुख्य बिंदु ब्लूमबर्ग के अनुसार, यह वर्ष 1952 के बाद से जीडीपी में सबसे बड़ा वार्षिक संकुचन होगा। राष्ट्रीय

Month:

RBI की मौद्रिक नीति समिति की बैठक आयोजित की गयी : मुख्य बिंदु

हाल ही में आरबीआई ने अपनी मौद्रिक नीति समिति की बैठक आयोजित की। इस बैठक के दौरान, भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो दर को 4% पर अपरिवर्तित रखा है। रेपो रेट वह दर है जिस पर RBI बैंकों को उधार देता है। रिवर्स रेपो रेट को 3.35% पर बरकरार रखा गया है। मुख्य बिंदु इस बैठक में यह

Month:

Advertisement