IMD

15 जनवरी : भारतीय मौसम विज्ञान विभाग स्थापना दिवस

15 जनवरी, 2022 को भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का 147वां स्थापना दिवस है। इसकी शुरुआत 1875 में हुई थी। इस दिवस को पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा मनाया जाता है, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अधीन कार्य करता है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की हालिया उपलब्धियां भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की पांच वेधशालाओं

Month:

‘पश्चिमी विक्षोभ’ (Western Disturbance) क्या हैं?

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अनुमान लगाया था कि पश्चिमी विक्षोभ के 11 जनवरी, 2022 से पूर्वी राज्यों से टकराने की संभावना है। मुख्य बिंदु यह भविष्यवाणी करते हुए IMD ने झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और बिहार राज्यों के लिए 11 जनवरी से 13 जनवरी के लिए पीले और नारंगी अलर्ट जारी किए। इन

Month:

विश्व प्रतिभा रैंकिंग (World Talent Ranking) रिपोर्ट जारी की गई

IMD वर्ल्ड कॉम्पिटिटिव सेंटर ने 9 दिसंबर, 2021 को अपनी “वर्ल्ड टैलेंट रैंकिंग रिपोर्ट” (World Talent Ranking Report) प्रकाशित की। मुख्य बिंदु  यह रिपोर्ट IMD World Competitive Centre द्वारा प्रतिवर्ष प्रकाशित की जाती है। यह रिपोर्ट 64 अर्थव्यवस्थाओं निम्नलिखित कारकों की एक श्रृंखला के आधार पर ग्रेड करती है: अर्थव्यवस्थाएं कैसे स्थानीय कर्मियों में निवेश

Month:

IMD ने विश्व प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक (World Competitiveness Index) जारी किया

विश्व प्रतिस्पर्धात्मकता सूचकांक (World Competitiveness Index) Institute for Management Development (IMD) द्वारा संकलित किया गया है जो दुनिया भर की अर्थव्यवस्थाओं पर COVID-19 के प्रभाव की जांच करता है। मुख्य बिंदु इस सूचकांक में 64 देशों में भारत 43वें स्थान पर था। स्विट्जरलैंड इस सूची में सबसे ऊपर है और उसके बाद स्वीडन, डेनमार्क, नीदरलैंड और

Month:

मलेरिया के लड़ने के लिए India Interagency Expert Committee on Malaria and Climate (IEC) का गठन किया गया

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने “Malaria No More” के साथ साझेदारी की है जो एक गैर-सरकारी संगठन है। मुख्य बिंदु IMD और ICMR ने “Malaria No More” के सहयोग से भारत में मलेरिया को खत्म करने के लिए जलवायु-आधारित समाधानों का पता लगाने और उन्हें आगे बढ़ाने के

Month:

मई, 2021 में पिछले 121 वर्षों में दूसरी सबसे अधिक बारिश दर्ज की गयी : भारतीय मौसम विज्ञान विभाग

भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department – IMD) के अनुसार, मई 2021 में पिछले 121 वर्षों में दूसरी सबसे अधिक वर्षा हुई है। मुख्य निष्कर्ष सबसे अधिक वर्षा दो लगातार चक्रवात और पश्चिमी विक्षोभ के कारण हुई है। भारतीय मौसम विभाग ने इस बात पर भी प्रकाश डाला है कि इस मई में भारत में

Month:

Advertisement