IMD

केरल में पहुंचा दक्षिण-पश्चिम मानसून

केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून  3 जून को पहुँच गया है। आमतौर पर, केरल में मानसून की शुरुआत की सामान्य तिथि 1 जून है, इस बार मानसून केरल में दो दिन की देरी से आया है। मानसून की शुरुआत की नई सामान्य तिथियों के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून अंडमान सागर के ऊपर 22 मई के आसपास आगे

Month:

केरल में 3 जून तक पहुँच जायेगा मानसून : भारतीय मौसम विज्ञान विभाग

हाल ही में भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि इस साल केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून की शुरुआत 3 जून को हो जाएगी।आमतौर पर, केरल में मानसून की शुरुआत की सामान्य तिथि 1 जून है। मानसून की शुरुआत की नई सामान्य तिथियों के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून अंडमान सागर के ऊपर 22 मई के

Month:

केरल में 31 मई तक पहुँच जायेगा मानसून : भारतीय मौसम विज्ञान विभाग

हाल ही में भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि इस साल केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून की शुरुआत 31 मई को हो जाएगी।आमतौर पर, केरल में मानसून की शुरुआत की सामान्य तिथि 1 जून है। मानसून की शुरुआत की नई सामान्य तिथियों के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम मानसून अंडमान सागर के ऊपर 22 मई के

Month:

2021 में भारत में मानसून सामान्य रहेगा: IMD

भारतीय मौसम विभाग (Indian Meteorological Department –  IMD) ने हाल ही में घोषणा की थी कि लंबी अवधि के औसत के 98% पर दक्षिण-पश्चिम मानसून (southwest monsoon) के सामान्य रहने की उम्मीद है। क्योंकि भारत में मॉनसून वर्षा को प्रभावित करने वाले ला नीना (La Nina) या अल नीनो (El Nino) के अनुपस्थित होने की संभावना

Month:

शीतकाल 2021 के लिए भारतीय मौसम विभाग का जलवायु सारांश

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने 2 मार्च, 2021 को मासिक जलवायु सारांश जारी किया है। IMD रिपोर्ट के अनुसार, भारत ने 1901 के बाद जनवरी और फरवरी 2021 के महीनों के दौरान अपनी दूसरी सबसे गर्म सर्दी दर्ज की है। मुख्य बिंदु आईएमडी ने कहा है कि, पिछले दो महीनों में न्यूनतम तापमान 15.39 डिग्री

Month:

ओडिशा में बनाया जायेगा भारत का पहला थंडरस्टॉर्म रिसर्च टेस्टबेड

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार ओडिशा के बालासोर में देश का पहला आंधी-तूफ़ान अनुसंधान केंद्र (Thunderstorm Research Testbed) बनाया जाएगा। प्रमुख बिंदु बालासोर में आंधी-तूफ़ान अनुसंधान केंद्र स्थापित करने का उद्देश्य आसमानी के कारण जान-माल के नुकसान को कम करना है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के पास एक प्रथम श्रेणी का मानसून परीक्षण केंद्र

Month:

Advertisement