Indian Economy

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार (India’s Forex Reserve) 612.73 अरब डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा

16 जुलाई, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 835 मिलियन डॉलर की वृद्धि के साथ 612.73 अरब डॉलर के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है।

Month:

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार (India’s Forex Reserve) 608.999 अरब डॉलर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा

25  जून, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 5.066 अरब डॉलर की कमी के साथ 608.999 अरब डॉलर के उच्चतम स्तर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है। विदेशी

Month:

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार (India’s Forex Reserve) 603.93 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंचा

18 जून, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 4.148 अरब डॉलर की कमी के साथ 603.933 अरब डॉलर के स्तर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है। विदेशी मुद्रा

Month:

क्रिसिल (CRISIL) ने भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का अनुमान 11% से घटाकर 9.5% किया

रेटिंग एजेंसी क्रिसिल (CRISIL) ने वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के विकास के अनुमान को 11% से घटाकर 9.5% कर दिया है। मुख्य बिंदु इससे स्पष्ट होता है कि दूसरी कोविड -19 लहर ने निजी खपत और निवेश को प्रभावित किया है। इसने स्वतंत्रता के बाद से भारतीय अर्थव्यवस्था

Month:

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने 7 करोड़ पंजीकृत यूजर्स का आंकड़ा पार किया

हाल ही में BSE ने 7 करोड़ पंजीकृत यूजर्स का आंकड़ा पार किया।  गौरतलब है कि 6 करोड़ से 7 करोड़ यूजर्स तक पहुँचने में BSE को मात्र 139 दिन लगे। जबकि BSE को 5 करोड़ से 6 करोड़ यूजर्स तक पहुँचने में 241 दिन लगे थे। इन नए यूजर्स में से 82 लाख लोग

Month:

विश्व बैंक ने भारत के MSME सेक्टर की मदद के लिए 500 मिलियन डालर के कार्यक्रम को मंजूरी दी

हाल ही में विश्व बैंक ने भारत के MSME सेक्टर को बढ़ावा देने में मदद के लिए 500 मिलियन डालर के कार्यक्रम को मंजूरी दी है। इस कार्यक्रम का लक्ष्य 5,50,000 MSME के प्रदर्शन में सुधार का है। मुख्य बिंदु गौरतलब है कि भारत में लगभग 58 मिलियन MSMEs में से 40 प्रतिशत से अधिक

Month:

1 / 512345

Advertisement