IUCN

पटना में बनेगा राष्ट्रीय डॉल्फिन अनुसंधान केंद्र (National Dolphin Research Centre)

बहुप्रतीक्षित राष्ट्रीय डॉल्फिन अनुसंधान केंद्र (National Dolphin Research Centre – NDRC) जल्द ही पटना में स्थापित किया जायेगा। इस अनुसंधान केंद्र स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। मुख्य बिंदु इस अनुसंधान केंद्र का खुलना लुप्तप्राय गंगा नदी डॉल्फिन (Gangetic River Dolphin) के संरक्षण की दिशा में एक बड़ा कदम होगा। अनुसंधान केंद्र स्थापित करने

Month:

विशालकाय पांडा (Giant Panda) असुरक्षित हैं, लुप्तप्राय नहीं : चीन

चीनी संरक्षण अधिकारियों ने घोषणा की है कि, चीनी विशाल पांडा (Chinese Giant Panda) अब एक लुप्तप्राय प्रजाति नहीं है। मुख्य बिंदु विशाल पांडा की स्थिति को “असुरक्षित” (vulnerable) में अपडेट किया गया है। अब जंगल में 1,800 विशाल पांडा रह रहे हैं। हाल के वर्षों के दौरान प्रकृति भंडार और अन्य संरक्षण पहलों को

Month:

ऑपरेशन ओलिविया (Operation Olivia) क्या है?

हाल ही में, तटरक्षक बल ने कानून लागू किए हैं और ओडिशा में ओलिव रिडले कछुओं (Olive Ridley Turtles) की रक्षा के लिए ऑपरेशन ओलिविया (Operation Olivia) शुरू किया है। ऑपरेशन ओलिविया (Operation Olivia) क्या है? ऑपरेशन ओलिविया भारतीय तटरक्षक बल (ICG) द्वारा पहली बार 1980 के दशक की शुरुआत में शुरू किया गया था। यह ऑपरेशन हर साल ओलिव रिडले कछुओं की रक्षा करने में

Month:

अरुणाचल प्रदेश में एक साथ मोनाल की दो प्रजातियां पाई गयी

मध्य अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सियांग जिले में स्थानीय वन्यजीव उत्साही लोगों द्वारा मोनाल की दो प्रजातियों को एक साथ देखा गया। मुख्य बिंदु खोजी गई प्रजाति हिमालयन मोनाल है, इसे लोफोफोरस इम्पेजेनस (Lophophorus Impejanus) भी कहा जाता है। यह अफगानिस्तान से पूर्वोत्तर भारत में व्यापक रूप से पाया जाता है। जबकि, दूसरी प्रजाति स्क्लेटर मोनाल

Month:

संघर्ष और संरक्षण पर IUCN रिपोर्ट : मुख्य बिंदु

International Union for Conservation of Nature ने हाल ही में “Nature in a Globalised World: Conflict and Conservation” नामक एक रिपोर्ट जारी की है। यह रिपोर्ट प्रकृति और सशस्त्र संघर्ष के बीच जटिल संबंधों पर केंद्रित है। इस रिपोर्ट का मुख्य उद्देश्य प्रकृति संरक्षण को आर्थिक और राजनीतिक निर्णय लेने की मुख्यधारा में लाना था। इस रिपोर्ट

Month:

भारत में हूलॉक गिबन की केवल एक ही प्रजाति पाई जाती है : अध्ययन

हूलॉक गिबन (Hoolock Gibbon) कपि (lesser apes) हैं। वे सियामंग (Siamang) के बाद दूसरे सबसे बड़े गिबन हैं। पहले यह कहा गया था कि भारत (उत्तर पूर्व भारत) दो प्रजातियों का घर है, अर्थात् पूर्वी हूलॉक गिबन (Eastern Hoolock Gibbon) और पश्चिमी  हूलॉक गिबन (Western Hoolock Gibbon)। हालांकि, सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी (Centre

Month:

1 / 212

Advertisement