NSE

आशीष कुमार चौहान NSE के नए प्रमुख बने

आशीष कुमार चौहान नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के नए प्रमुख होंगे। मुख्य बिंदु  आशीष कुमार चौहान की उम्मीदवारी को ‘भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी)’ ने मंजूरी दे दी है। वह NSE के प्रबंध निदेशक (एमडी) और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) बनेंगे। वर्तमान में, वह बीएसई के एमडी और सीईओ हैं। विक्रम लिमये के NSE

Month:

SEBI ने ‘मंथन’ आईडियाथॉन लांच की

सेबी की अध्यक्ष, माधबी पुरी बुच ने नवाचारों को बढ़ावा देने के लिए ‘मंथन’ आईडियाथॉन लॉन्च किया है। मुख्य बिंदु भारत वर्तमान में प्रतिभूति बाजार क्षेत्र में प्रौद्योगिकी के विकास और उपयोग के लिए अच्छी स्थिति में है ताकि देश भर में प्रत्येक व्यक्ति को न्यूनतम लागत पर अनुकूलित समाधान प्रदान किया जा सके। मंथन 

Month:

सेबी ने सा₹थी (Saa₹thi) मोबाइल एप्प लांच किया

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Securities and Exchange Board of India-  SEBI) ने सारथी मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किया। यह एप्लिकेशन प्रतिभूति बाजारों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। यह निवेशकों के लिए बेहद उपयोगी है। मुख्य बिंदु  यह एप्प म्युचुअल फंड, इसके कामकाज, व्यापार और निपटान, KYC (अपने ग्राहक को जानें) प्रक्रियाओं, बाजार में

Month:

विश्व निवेशक सप्ताह (World Investor Week) 2021 : मुख्य बिंदु

BSE और NSE ने विश्व स्तर पर लोकप्रिय कार्यक्रम “World Investor Week 2021” के समारोह का शुभारंभ किया। इस आयोजन के तहत, वे कई शैक्षिक गतिविधियों का संचालन करेंगे। मुख्य बिंदु सेबी और इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ सिक्योरिटीज कमिशन्स (IOSCO) के तत्वावधान में 21-28 नवंबर, 2021 के दौरान Central Depository Services (India) Ltd (CDSL) भी विश्व निवेशक

Month:

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने 7 करोड़ पंजीकृत यूजर्स का आंकड़ा पार किया

हाल ही में BSE ने 7 करोड़ पंजीकृत यूजर्स का आंकड़ा पार किया।  गौरतलब है कि 6 करोड़ से 7 करोड़ यूजर्स तक पहुँचने में BSE को मात्र 139 दिन लगे। जबकि BSE को 5 करोड़ से 6 करोड़ यूजर्स तक पहुँचने में 241 दिन लगे थे। इन नए यूजर्स में से 82 लाख लोग

Month:

कार्वी मामला : आखिर कार्वी स्टॉक ब्रोकिंग पर प्रतिबन्ध क्यों लगाया गया?

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ने कार्वी स्टॉक ब्रोकिंग लिमिटेड (KSBL) को हाल ही में डिफ़ॉल्टर करार किया। कार्वी पर विनियामक प्रावधानों का पालन नहीं करने का आरोप है। और इसे NSE की सदस्यता से भी निष्कासित कर दिया गया है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) ने भी इसी प्रकार की कार्यवाई की है। मुख्य बिंदु 22 नवंबर,

Advertisement