RBI

RBI ने जून 2022 के लिए वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट (Financial Stability Report) जारी की

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने हाल ही में जून 2022 के लिए अपनी वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट प्रकाशित की। मुख्य बिंदु  RBI रिपोर्ट के इस संस्करण में अंतर्राष्ट्रीय नियामक और पर्यवेक्षी प्रथाओं का एक सर्वेक्षण शामिल है, जो बिग टेक संस्थाओं पर लागू होता है। RBI ने अपने सर्वे में गूगल, फेसबुक, एपल, एमेजॉन और अलीबाबा

Month:

RBI ने ‘Payments Vision 2025’ दस्तावेज़ जारी किया

17 जून, 2022 को, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने भुगतान प्रणालियों के लिए एक दस्तावेज़ में डिजिटल वित्त के आर्किटेक्चर पर अपना दृष्टिकोण जारी किया। Payments Vision 2025 इस दस्तावेज़ में शामिल हैं: भुगतान में बिगटेक और फिनटेक के लिए विनियम “Buy Now Pay Later” (BNPL) सेवाओं के साथ भुगतान पर दिशानिर्देश केंद्रीय बैंक डिजिटल

Month:

सभी ATM में कार्डलेस नकद निकासी की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी : RBI

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सभी बैंकों, एटीएम नेटवर्क और व्हाइट लेबल एटीएम ऑपरेटरों (WLAOs) को अपने ग्राहकों को देश के सभी एटीएम में इंटरऑपरेबल कार्ड-लेस कैश विदड्रॉल (ICCW) का विकल्प प्रदान करने का निर्देश दिया है। मुख्य बिंदु  कार्ड-रहित नकद निकासी लेनदेन के लिए, ग्राहक प्राधिकरण के लिए यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) सुविधा का

Month:

मुद्रा और वित्त पर RBI ने रिपोर्ट जारी (RBI Report on Currency and Finance) की

हाल ही में, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने वर्ष 2021-22 के लिए मुद्रा और वित्त (Report on Currency and Finance – RCF) पर रिपोर्ट जारी की। रिपोर्ट की थीम क्या है? इस रिपोर्ट का विषय “Revive and Reconstruct” है, जो एक टिकाऊ रिकवरी पोस्ट-कोविड ​​​​को पोषित करने और मध्यम अवधि में प्रवृत्ति वृद्धि को बढ़ाने

Month:

अब UPI के माध्यम से ATM से पैसे निकालने जा सकेंगे : RBI

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा सभी ATM पर कार्डलेस नकद निकासी की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। यह सुविधा बैंक की परवाह किए बिना यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) के जरिए उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्य बिंदु  यह फैसला RBI की मौद्रिक नीति समिति (Monetary Policy Committee – MPC) ने किया। RBI ने सभी बैंकों को एटीएम

Month:

1 अप्रैल: भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस

1 अप्रैल को भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस मनाया जाता है, इसकी स्थापना 1 अप्रैल, 1935 को की गयी थी। पृष्ठभूमि RBI से पहले, केंद्रीय बैंक के सभी कार्य इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया (Imperial Bank of India) द्वारा किए जा रहे थे। इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया अधिनियम, 1920 के माध्यम से इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया

Month:

Advertisement