RBI

RBI ने RRA 2.0 की सहायता के लिए समिति का गठन किया

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में एस. जानकीरमण (S. Janaki Raman) के तहत एक समिति का गठन किया है। यह समिति को दूसरे नियामक समीक्षा प्राधिकरण (Regulatory Review Authority) की सहायता करेगी। समिति के बारे में यह समिति क्षेत्रों, दिशानिर्देशों, विनियमों और रिटर्न की पहचान करने के लिए प्राधिकरण की सहायता करेगी। यह समय-समय

Month:

G-SAP 1.0 के तहत RBI की दूसरी खरीद : मुख्य बिंदु

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने हाल ही में घोषणा की कि आरबीआई 20 मई, 2021 को जी-सेक अधिग्रहण कार्यक्रम 1.0 (G-Sec Acquisition Programme 1.0) के तहत सरकारी प्रतिभूतियों की दूसरी खरीद करेगा । पहली खरीद अप्रैल, 2021 में की गई थी। आरबीआई ने पहली खरीद के दौरान सरकारी प्रतिभूतियों के

Month:

COVID लोन बुक क्या है?

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में 50,000 करोड़ रुपये की ऑन-टैप लिक्विडिटी विंडो (on-tap liquidity window) खोली है। नोट: ऑन-टैप का मतलब ‘तैयार’ है। ऑन-टैप लिक्विडिटी विंडो वह फंड है जिसे तुरंत प्रदान किया जाना है। योजना क्या है? इस कदम के तहत बैंक वैक्सीन निर्माताओं, टीकों के आयातकों, पैथोलॉजी लैब, अस्पतालों और औषधालयों, टीकों

Month:

बैंक के सीईओ और एमडी के कार्यकाल के लिए आरबीआई ने दिशानिर्देश जारी किये

भारतीय रिज़र्व बैंक ने हाल ही में कॉरपोरेट बैंक प्रशासन में सुधार लाने के लिए कई निर्देश दिए हैं। RBI के दिशानिर्देश एक व्यक्ति एमडी और सीईओ के पद पर 15 वर्ष से अधिक समय तक नहीं रह सकता।हालांकि, तीन साल की अवधि के बाद उन्हें फिर से नियुक्त किया जा सकता है। इस अवधि के

Month:

भारतीय रिजर्व बैंक ने की अर्थव्यवस्था की स्थिति पर रिपोर्ट जारी की

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में अप्रैल, 2021 के महीने के लिए अर्थव्यवस्था की स्थिति पर रिपोर्ट जारी की। रिपोर्ट के मुख्य बिंदु COVID-19 के पुनरुत्थान के कारण मुद्रास्फीति का दबाव वापस आ सकता है। इसके अलावा, आपूर्ति श्रृंखला में प्रतिबंध और व्यवधान मुद्रास्फीति के दबाव को बढ़ा सकते हैं। G-Sec Acquisition Programme के

Month:

भारतीय रिजर्व बैंक ने किया Regulations Review Authority 2.0 का गठन

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में विनियम समीक्षा प्राधिकरण (Regulations Review Authority) 2.0 की स्थापना की। यह प्राधिकरण एक वर्ष की अवधि के लिए कार्य करेगा। Regulations Review Authority 2.0 के कार्य RRA नियामक पर्चे (regulatory prescriptions) की आंतरिक रूप से समीक्षा करेगा। यह विनियमित संस्थाओं और हितधारकों से सुझाव मांगकर नियामक पर्चे की

Month:

Advertisement