RBI

करेंसी चेस्ट (Currency Chest) क्या होती है?

करेंसी चेस्ट ऐसी जगहें हैं जहां RBI (भारतीय रिजर्व बैंक) बैंकों और एटीएम के लिए भेजे जाने वाले पैसे को रखता है। करेंसी चेस्ट विभिन्न बैंकों में स्थित हैं और भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा प्रशासित हैं। हाल ही में करेंसी चेस्ट ख़बरों में क्यों है? चंडीगढ़ में एक्सिस बैंक की करेंसी चेस्ट से एक प्राइवेट

Month:

RBI ने मुद्रास्फीति का पूर्वानुमान मॉडल संशोधित किया गया

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में अपने मुद्रास्फीति पूर्वानुमान मॉडल को संशोधित किया है। नया मॉडल यह कैप्चर करेगा कि कैसे राजकोषीय और मौद्रिक नीति वास्तविक अर्थव्यवस्था तत्वों के साथ बेहतर तरीके से इंटरैक्ट करती है। नया मुद्रास्फीति पूर्वानुमान मॉडल नया मॉडल तीन ब्लॉक में है। पहला ब्लॉक सरकार के प्राथमिक घाटे को संरचनात्मक और चक्रीय

Month:

प्रीपेड भुगतान उपकरण (Prepaid Payment Instruments) क्या हैं?

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में प्रीपेड भुगतान उपकरण में तीन मुख्य बदलाव किए हैं। प्रीपेड भुगतान उपकरण (Prepaid Payment Instruments) क्या हैं? प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट्स या PPI ऐसे साधन हैं जिनके माध्यम से ऐसे उपकरणों में स्टोर किये गये मूल्य से  सामान और सेवाओं की खरीद की जाएगी। प्रीपेड उपकरणों को प्रीपेड राशि तक

Month:

1 अप्रैल: भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस

1 अप्रैल को भारतीय रिज़र्व बैंक का स्थापना दिवस मनाया जाता है, इसकी स्थापना 1 अप्रैल, 1935 को की गयी थी। पृष्ठभूमि RBI से पहले, केंद्रीय बैंक के सभी कार्य इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया (Imperial Bank of India) द्वारा किए जा रहे थे। इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया अधिनियम, 1920 के माध्यम से इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया

Month:

RBI ने बेस रेट को 15 बेसिस पॉइंट्स घटाकर 7.81% किया

गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों (NBFC) और माइक्रो फाइनेंस संस्थानों (MFI) द्वारा दिए जाने वाले विभिन्न ऋणों को कल से सस्ता होने की उम्मीद है। मुख्य बिंदु भारतीय रिज़र्व बैंक ने आज सूचित किया कि आधार दर 7.81 प्रतिशत है। मौजूदा तिमाही की तुलना में यह 15 बेसिस पॉइंट्स (0.15%) कम है। पिछले साल यह इसी अवधि

Month:

RBI ने 30 जून तक PMC बैंक पर प्रतिबंध को बरकरार रखा

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी (Punjab & Maharashtra Cooperative – PMC) बैंक में निकासी और जमा पर प्रतिबंधों को 30 जून, 2021 तक बढ़ा दिया है। यह निर्णय इसलिए लिया गया क्योंकि केंद्रीय बैंक घोटाले से प्रभावित इस बैंक के लिए एक निवेशक को अंतिम रूप देने के लिए काम कर

Month:

Advertisement