SII

WHO ने Covovax के टीके के लिए आपातकालीन मंजूरी दी

17 दिसंबर, 2021 को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बच्चों के लिए कोवोवैक्स (Covovax) वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग को मंजूरी दी। मुख्य बिंदु WHO ने आपातकालीन उपयोग के लिए Covovax को नौवें COVID-19 वैक्सीन के रूप में सूचीबद्ध किया है। इस कदम का उद्देश्य कम आय वाले देशों में टीकाकरण की पहुंच बढ़ाना है। सीरम इंस्टीट्यूट

Month:

दिसंबर तक COVID-19 टीकों की 44 करोड़ खुराक उपलब्ध होंगी

भारत सरकार ने कोविड-19 टीकाकरण अभियान को और तेज़ी से चालू कर दिया है। इसके लिए भारत सरकार ने टीकों के लिए एक नया आर्डर दिया है। मुख्य बिंदु दिसंबर, 2021 तक कोविड-19 टीकों की 44 करोड़ खुराकें उपलब्ध होंगी। इन खुराकों में से कोविशील्ड (Covishield) की 25 करोड़ और कोवाक्सिन (Covaxin) की 19 करोड़

Month:

सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया को मिली भारत में Sputnik V वैक्सीन के निर्माण की अनुमति

DGCI (Drugs Controller General of India) ने हाल ही में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया को भारत में स्पुतनिक-वी वैक्सीन के निर्माण की अनुमति दे दी है। अब इस रूसी वैक्सीन का निर्माण पुणे में किया जायेगा। इस कार्य के लिए सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया ने रूस के Gamaleya Research Institute of Epidemiology and Microbiology के

Month:

 भारत में कोविड-19 टीकाकरण का आंकड़ा 18 करोड़ के पार पहुँचा

भारत में अब तक 18   करोड़ से अधिक लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है। गौरतलब है कि पिछले 24 घंटों में देश में 20 लाख से अधिक लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया है। कोविड-19 टीकाकरण का पहला चरण कोविड-19 टीकाकरण अभियान का पहला चरण 16 जनवरी, 2021 को शुरू

Month:

आज से शुरू हुआ COVID-19 टीकाकरण का दूसरा चरण

1 मार्च, 2021 से COVID-19 टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू हो गया है। मुख्य बिंदु कोविड-19 टीकाकरण के दूसरे चरण के तहत, 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीका लगाया जाएगा। इसके अलावा, दिशानिर्देशों के अनुसार, 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों और रोगों से पीड़ित लोगो का टीकाकरण भी किया जाएगा।

Month:

ऑक्सफ़ोर्ड-एस्ट्राज़ेनेका की वैक्सीन कोविशील्ड की आपातकालीन उपयोग के लिए अनुशंसा की गयी

Central Drugs Standard Control Organization (CDSCO) की विशेषज्ञ समिति ने हाल ही में ऑक्सफ़ोर्ड-एस्ट्राज़ेनेका की वैक्सीन कोविशील्ड की अनुशंसा आपातकालीन उपयोग के लिए की है। यह ऐसा पहला वैक्सीन है जिसे भारत में मंज़ूरी दी गयी है। इस वैक्सीन का निर्माण भारत में ही सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया द्वारा किया जा रहा है। गौरतलब है

Month:

Advertisement