Sputnik V

महाराष्ट्र बना 2 करोड़ कोरोना वैक्सीन लगाने वाला पहला राज्य

16 जनवरी से शुरू हुए अभियान के बाद से महाराष्ट्र देश का पहला राज्य बन गया है जिसने 2 करोड़ वैक्सीन लगा लिए गये। पिछले 24 घंटे में राज्य में कुल 3680 टीकाकरण सत्र हुए, जिसमें से 3,81,35 लोगों को टीका लगाया गया। टीकाकरण के लिए पंजीकरण कैसे करवाएं? कोविड-19 टीकाकरण के लिए पंजीकरण Co-WIN

Month:

भारत में कोविड-19 टीकाकरण का आंकड़ा 25 करोड़ के पार पहुँचा

भारत में अब तक 25 करोड़ से अधिक लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है। कुल मिलाकर देश में 18 से 44 वर्ष के लोगों को 4 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं। गौरतलब है कि बिहार, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में 18-44

Month:

ब्राज़ील ने भारत बायोटेक की वैक्सीन ‘कोवाक्सिन’ (COVAXIN) को आयात करने के लिए मंज़ूरी दी

ब्राज़ील ने हाल ही में भारतीय वैक्सीन ‘कोवाक्सिन’ के आयात को मंज़ूरी दे दी है। कोवाक्सिन का निर्माण हैदराबाद बेस्ड भारतीय कंपनी भारत बायोटेक द्वारा किया जाता है। इसके लिए ब्राज़ील के राष्ट्रीयस्वास्थ्य एजेंसी ने मंज़ूरी दी। मुख्य बिंदु गौरतलब है कि भारत से आयात की जाने वाली इन टीकों का उपयोग विशिष्ट परिस्थितियों में

Month:

स्पुतनिक वी (Sputnik V) वैक्सीन भारत में लांच की गयी, कीमत 995 रुपये प्रति डोज़

14 मई 2021 को डॉ. रेड्डीज लैबोरेट्रीज (Dr Reddy’s Laboratories) ने घोषणा की कि उसने भारत में स्पुतनिक वी (Sputnik V) लॉन्च किया है। यह वैक्सीन रूस से आयात की जाती है। और डॉ. रेड्डीज लैबोरेट्रीज द्वारा वितरित की जाती है। वर्तमान में, स्पुतनिक V देश का दूसरा सबसे महंगा COVID-19 वैक्सीन है। स्पुतनिक वी

Month:

Sputnik Light Single Dose क्या है?

रूस द्वारा विकसित स्पुतनिक वी (Sputnik V) टीका दो खुराक  वाला टीका है। इस वैक्सीन की अनूठी विशेषता यह है कि पहली और दूसरी खुराक एक दूसरे से भिन्न होती है। स्पुतनिक लाइट (Sputnik Light ) में एक खुराक ही पर्याप्त है। स्पुतनिक वी (Sputnik V) स्पुतनिक वी को Gam-COVID-Vac के रूप में भी जाना

Month:

रूसी कोविड-19 वैक्सीन Sputnik V का पहला बैच भारत में पहुंचा

हाल ही में रूस द्वारा निर्मित स्पुतनिक-वी (Sputnik-V) वैक्सीन की पहली खेप भारत में पहुँच गयी है। पहले बैच में  1,50,000 वैक्सीन प्राप्त हुए हैं। गौरतलब है कि स्पुतनिक-वी (Sputnik-V) तीसरा टीका है जिसका उपयोग भारत में कोरोनवायरस के खिलाफ किया जाएगा। हाल ही में भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल (Drug Controller General of India) ने

Month:

Advertisement