IMF

गीता गोपीनाथ (Gita Gopinath) बनीं IMF की पहली उप प्रबंध निदेशक (Deputy Managing Director)

भारतीय अमेरिकी गीता गोपीनाथ अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की पहली उप प्रबंध निदेशक बन गई हैं। वह संगठन में शीर्ष भूमिका निभाने वाली पहली भारतीय हैं। उप प्रबंध निदेशक IMF में प्रबंध निदेशक के बाद दूसरा शीर्ष पद है। गीता गोपीनाथ कौन हैं? गीता गोपीनाथ अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की पहली महिला मुख्य अर्थशास्त्री थीं। उनका जन्म 1971

Month:

गीता गोपीनाथ ने IMF से इस्तीफ़ा देने का निर्णय लिया

मुख्य अर्थशास्त्री और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के अनुसंधान विभाग की निदेशक, गीता गोपीनाथ ने, जनवरी 2022 में IMF को छोड़ने का निर्णय लिया है। मुख्य बिंदु  वह नौकरी छोड़ने के बाद प्रतिष्ठित हार्वर्ड विश्वविद्यालय में लौट आएंगी। भारतीय-अमेरिकी अर्थशास्त्री जनवरी, 2019 में मुख्य अर्थशास्त्री के रूप में IMF में शामिल हुई थीं। जब वह

Month:

भारत पर IMF की वार्षिक रिपोर्ट : मुख्य बिंदु

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने 15 अक्टूबर, 2021 को अपनी वार्षिक रिपोर्ट प्रकाशित की। इस रिपोर्ट में यह कहा गया है कि भारत की अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे रिकवर हो रही है,। मुख्य निष्कर्ष IMF ने हालांकि मुद्रास्फीति के दबाव के प्रति आगाह किया है। IMF ने मौद्रिक नीति समर्थन में धीमी कमी की भी सिफारिश की

Month:

IMF ने ‘World Economic Outlook’ जारी किया

‘World Economic Outlook’ में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने वर्ष 2021 में लैटिन अमेरिकी और कैरेबियाई अर्थव्यवस्था के अपने विकास पूर्वानुमानों में सुधार किया। मुख्य बिंदु  IMF की रिपोर्ट के अनुसार, 2021 तक 6.3% और 2022 तक 2.5% की रिकवरी की उम्मीद है। IMF को वर्ष 2022 के लिए 3.2% की वृद्धि की उम्मीद है,

Month:

IMF ने क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) पर रिपोर्ट जारी की

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने “Global Financial Stability Report” नामक अपनी रिपोर्ट जारी की है, जिसमें बताया गया है कि डिजिटल मुद्रा संपत्ति कैसे वित्तीय स्थिरता चुनौती पेश करती है। रिपोर्ट के प्रमुख निष्कर्ष अपनी रिपोर्ट में, IMF ने कहा है कि तेजी से बढ़ता क्रिप्टो पारिस्थितिकी तंत्र दुनिया के लिए नए अवसर प्रस्तुत करता

Month:

श्रीलंका ने कोविड वैक्सीन खरीदने के लिए IMF से 10 करोड़ डॉलर का ऋण मांगा

फाइजर कोविड-19 वैक्सीन की 14 मिलियन खुराक की खरीद के लिए श्रीलंका ने अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) से $100 मिलियन के ऋण की मांग है। मुख्य बिंदु  इस ऋण के साथ, श्रीलंका टीकाकरण कार्यक्रम से संबंधित अन्य लागतों को भी वित्तपोषित करेगा। यह प्रस्ताव स्वास्थ्य मंत्री केहेलिया रामबुक्वेला ने रखा था। श्रीलंका को “कोविड -19

Month:

1 / 3123

Advertisement